नई दिल्ली: विराट कोहली ने नागपुर टेस्ट में श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक जड़कर एक और नया रिकॉर्ड बना दिया है. रिकॉर्ड बुक में कोहली का धमक के साथ एक और अध्याय जुड़ने वाला है. वैसे ये दोहरा शतक ऐसे दिन आया जब नागपुर से सिर्फ 821 किमी दूर हुए मुंबई हमलों की बरसी पूरा देश मना रहा था. अब 26 नवंबर को विराट की ऐतिहासिक पारी के लिए भी याद किया जाएगा. विराट कोहली ने 267 गेंदों पर 17 चौकों और 2 छक्कों के साथ 213 रन बनाए. विराट के टेस्ट करियर का ये पांचवां दोहरा शतक हैं. कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा दोहरे शतक बनाने वाले कप्तानों की लिस्ट में विराट लारा के साथ संयुक्त रूप से टॉप पर हैं.

एक कलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा इंटरनेशनल शतक बनाने वाले कप्तान भी विराट कोहली बन गए हैं. विराट ने पॉन्टिंग और ग्रीम स्मिथ के 9-9 शतक के सालों पुराने रिकॉर्ड को पटकनी दी. सबसे ज्यादा 150 प्लस रन बनाने वाले कप्तान भी अब विराट बन गए हैं, विराट इस रिकॉर्ड के लिए अजहर और गावस्कर जैसे महान कप्तानों को पीछे छोड़ दिया है. हिंदुस्तान के लिए टेस्ट कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले बल्लेबाज़ भी अब विराट कोहली ही हैं. विराट कोहली की पारी इसलिए भी खास हैं, क्योंकि ना सिर्फ उन्होंने ये दोहरा शतक बनाया बल्कि तीसरे और पांचवें विकेट के लिए साझेदारी कर श्रीलंका को कभी ना भूलने वाला दर्द भी दे दिया.

विराट कोहली ने तीसरे विकेट के लिए पुजारा के साथ 183 रन की साझेदारी की. जबकि पांचवें विकेट के लिए रोहित शर्मा के साथ 173 रन की तेज तर्रार रन जोड़ दिए.विराट कोहली का हर रन ना सिर्फ श्रीलंका को रुला रहा है, बल्कि दक्षिण अफ्रीका को भी डरा रहा है. क्योंकि जब फॉर्म में विराट होते हैं तो विरोधी टीम सिर्फ सीमा पार के बाहर गेंद उठाने का ही काम कर पाती है, बाकी कुछ और नहीं.

वीडियो में देखें पूरा शो-