नई दिल्ली: साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच शुरू होने से पहले विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री का मिजाज बदला-बदला सा नजर आ रहा है. इन दोनों लोगों का मानना है कि साउथ अफ्रीका पर काबू सिर्फ एग्रेसिव बैटिंग से ही पाया जा सकता है. टीम इंडिया के कप्तान और कोच के इस बात से साफ हो गया है कि विराट ने अब अपने खिलाड़ियों को खुला आदेश दे दिया है कि डीएनडी (डू नॉट डिफेंडस) हटाओं सेंचुरियन में हिट एंड रन नीति चलाओ. विराट बैटिंग ऑर्डर को क्यों ललकार रहे हैं ये आंकड़ों से भी समझ लीजिएं.

केपटाउन टेस्ट की पहली पारी में साउथ अफ्रीका ने 440 गेंद में बल्ले से 280 रन बनाएं, स्कोरिंग बॉल रही 128 वहीं टीम इंडिया ने गेंद तो 442 खेली लेकिन बल्ले से रन 195 बने, स्कोरिंग बॉल रही सिर्फ 84. ये ही हार का असली कारण बना और साउथ अफ्रीका को 77 रनों की अहम बढत मिली जबकि दूसरी पारी में कोहली एंड कंपनी ने ज्यादा स्कोरिंग गेंद खेली थी.

दूसरी पारी में साउथ अफ्रीका ने 248 गेंदों में से 53 स्कोरिंग बॉल खेली जबकि भारत ने 256 गेंदों में से 66 स्कोरिंग बॉल खेली. आंकड़े बता रहे हैं कि पिच पर रूकने का माद्दा टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों से ज्यादा दिखाया. लेकिन रन उतने नहीं बना पाएं. ऐसे में दूसरे टेस्ट मैच के लिए अब कमबैक का प्लान बन चुका है. कैप्टन राह भी चुन चुके हैं. अब जरूरत है तो बस बिना डरे बाउंस बैक करने की. कोहली और उनकी ये टीम अगर इस बार कमबैक कर लेती है. तो फिर इस टीम को कोई नहीं रोक पाएगा. क्योंकि अफ्रीका में सीरीज़ जीत का स्वाद आज तक हमने चखा नहीं है और अब नारा देना होगा अभी नहीं तो कभी नहीं.

वीडियो में देखे पूरा शो-