नई दिल्ली: क्या अश्विन-जडेजा का वनडे का करियर खत्म ? क्या विराट कोहली की फटाफट क्रिकेट की स्कीम में ये दोनों फिट नहीं बैठते. ये सवाल उठेंगे और जरूर उठेंगे क्योंकि अश्विन-जडेजा को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरुआती 3 वनडे की टीम में नहीं चुना गया है.
 
अश्विन-जडेजा पर एक बार फिर चहल और अक्षर पटेल को तरजीह दी गई. हालांकि चीफ सलेक्टर एमएसके प्रसाद ड्रॉप कहने से अब भी कतरा रहे हैं. बोर्ड की रोटेशन पॉलिसी के तहत अश्विन तथा जडेजा को आराम दिया गया है, श्रीलंका दौरे के दौरान भारतीय टीम का प्रदर्शन शानदार था.
 
इसमें अक्षर पटेल और युजवेंद्र चहल जैसे खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया, इस वजह से उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में खिलाकर भविष्य के लिए तैयार करना चाहते हैं.
 
विराट-शास्त्री के मिशन वर्ल्ड कप 2019 में ये दोनों फिट नहीं बैठ रहे. चैंपियंस ट्रॉफी में अश्विन जडेजा के प्रदर्शन से कप्तान ने बदलाव का मूड बना लिया है.
 
विराट कोहली चहल और पटेल को ज्यादा से ज्यादा मौका देना चाहते हैं. यहां गौर करने वाली बात ये है कि अश्विन आराम नहीं इंग्लैंड में काउंटी खेल रहे हैं. आर अश्विन का घर पर औसत 30.87 का है, जबकि विदेश में ये बढ़कर 34.47 का हो जाता है.
 
दूसरी तरफ रवींद्र जडेजा का घर पर औसत 28.52 का है, जबकि 42.25 का औसत सब कुछ कहने के लिए काफी है.ऑस्ट्रेलिया एक बड़ी टीम है, जिसके खिलाफ हमेशा बेस्ट टीम चुनी जाती है, लेकिन इस अहम सीरीज़ के शुरुआती तीन मैचों में अगर इनका चयन नहीं हुआ तो समझना ज्यादा मुश्किल नहीं की इनको वापसी के लिए पापड़ बेलने होंगे.
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App