नई दिल्ली: वैश्विक महामारी कोविड-19 के प्रकोप ने दुनिया भर के सभी देशों, सभी संस्कृतियों के लोगों को प्रभावित किया है, इस वास्तव को मद्देनजर रखते हुए सीरीज की रचना अंतर्राष्ट्रीय की गयी है। कोविड के बाद की स्थिति से स्वयं को अनुकूलित करते हुए आगे बढ़ने के बारे में लोगों को शिक्षित और सक्षम करने और जानकारी देने के लिए दुनिया भर से व्याख्याताओं को बुलाया गया है। दोनों संगठनों ने घोषित किया है कि संप्रदायवादी वैश्विक व्याख्याताओं द्वारा कोविड के बाद की स्थिति में मानसिक और शारीरिक फिटनेस के लिए स्वास्थ्य और कल्याण की मन में परिवर्तन लाने वाली, व्यापक, अपरंपरागत संकल्पनाओं को सरल बनाने पर ध्यान केंद्रित करेंगे।

हर सेशन में असामान्य सोच के वक्ताओं द्वारा नयी स्थितिओं को व्यावहारिक तरीकों से अनुकूलित करने के बारे में नए, अपरंपरागत लाइफ-हैक्स सांझा किए जाएंगे। यह वक्त अपने वैश्विक दृष्टिकोण और व्यक्तिगत अनुभवों का उपयोग करते हुए, असंभावित और तनावपूर्ण स्थिति से निपटने के लिए जवाबों और समाधान के साथ मदद करके सहभागियों के मन में विश्वास को मजबूत करेंगे।

इन सेशंस में शारीरिक फिटनेस, रोगों से लड़ने की शक्ति, मानसिक कल्याण, रिश्तें, पोषण और जीवन शैली से जुड़े विषयों पर चर्चा की जाएगी, सफलतापूर्वक लागू किए गए आश्चर्यजनक लाभों की असामान्य प्रतिक्रियाएं दी जाएंगी।

ट्रांसफॉर्मेशन सीरीज 2020 यह एक संवादात्मक मंच है जिसमें वक्ताओं और सहभागियों के बीच आमने-सामने वास्तविक बातचीत होगी जो स्थायी सकारात्मक प्रभाव के लिए आवश्यक परिवर्तन लेकर आएगी।

इस उद्यम की घोषणा करते हुए सेलिब्रेटी फिटनेस सलाहकार और समर्थक, साथ ही इस सीरीज के प्रवर्तक मिलिंद सोमण ने बताया, “आज हम ऐसे मोड़ पर है जहां केवल पारंपरिक संचार संसाधन और पारंपरिक तरीकों से वो सुधारवादी परिवर्तन नहीं आ पाएंगे जिनकी हम आशा कर रहे हैं।  इसीलिए ट्रांसफॉर्मेशन सीरीज 2020 में हम ऐसे व्यक्तिओं के अनुभवों और विचारों से लोगों को तैयार करना चाहते हैं, समाज में सोच निर्माण करना चाहते हैं जिन्होंने अपने जीवन में अविश्वसनीय रूप से असामान्य विकल्पों को चुनते हुए सफलता हासिल की है।”      

चार भागों की यह इ-टॉक सीरीज तीन महीने चलेगी, इसमें हर पखवाड़े में एक बार सेशन होगा जिसमें अच्छा होने और सही जगह से फिर से शुरूआत करने के बारे में सवालों और शंकाओं को हल किया जाएगा।

इन्डेन्स बीडीएस के निदेशक श्री. सुंदरेशन वेंकटरमन ने बताया, “कोविड के बाद के दौर के साथ स्वयं को अनुकूल कर पाने के लिए लोगों को वास्तव में इस्तेमाल में लाए जा सके ऐसे समाधान देने के लिए भारत के नामचीन आइकॉन श्री मिलिंद सोमण और स्पीकिंग माइंडस के साथ साझेदारी करते हुए हमें बहुत ख़ुशी हो रही है। नीतिक अनुभवात्मक कार्यक्रमों में हमारी कुशलता और स्पीकिंग माइंडस के सर्वोत्तम सोच के वैश्विक नेटवर्क के साथ हमें आशा है कि हम एक-दूसरे के संसाधनों और बलस्थानों का लाभ उठाते हुए डिजिटल कार्यक्रमों के नए दौर में आगे बढ़ेंगे।”   

इन सेशंस में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के कई नामचीन पैनेलिस्ट्स आएंगे जो सर्वोत्तम असामान्य पद्धतियों के बारे में जानकारी देंगे और सहभागियों को खास विषयों पर मार्गदर्शन करेंगे। इन वक्ताओं में न्यूज़ीलैंड की लिसा तमाती है जो अंतर्राष्ट्रीय स्तर की नामचीन अल्ट्रा-एंड्यूरेंस एथलिट हैं जो पिछले 25 सालों से दुनिया भर में सर्वाधिक धैर्य, सहनशक्ति के बारे में सलाह, मार्गदर्शन के कार्यक्रम चलाती आ रही है।  साथ ही इसमें एडलवाइस ग्रुप के चेयरमैन और सीईओ राशेष शाह और स्पोर्ट्स सायंटिस्ट, सायकोलॉजिस्ट और परफॉर्मेंस कोच श्यामल वल्लभजी भी शामिल होंगे।

स्पीकिंग माइंडस की सह-संस्थापक और निदेशक रागा डिसिल्वा ने वैश्विक सहभागिता के बारे में बताया, “भारत के सबसे बड़े अंतर्राष्ट्रीय स्पीकर ब्यूरो के रूप में, अत्याधुनिक कंटेंट और दुनिया भर के अपरंपरागत वक्ताओं तक पहुंच के साथ हमारे लिए ट्रांसफॉर्मेशन सीरीज के लिए इन्डेन्स बीडीएस के साथ साझेदारी करना स्वाभाविक था। यह कार्यक्रम दुनिया भर के वक्ताओं के जरिए एक अनूठा और बहुआयामी दृष्टिकोण लेकर आता जो कोविड-19 के बाद के दौर के लिए पुरे विश्व के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।” 

बुकमायशो इस सीरीज का अधिकृत तिकीटिंग पार्टनर है। इस सीरीज में भाग लेने के लिए बुकमायशो पोर्टल या ज़ूम रजिस्ट्रेशन प्लेटफार्म के जरिए रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। रजिस्ट्रेशन शुल्क हर सेशन में हर सहभागी के लिए रु. 1150 + जीएसटी है। कॉर्पोरेट बुकिंग्स या एक ही समूह / संगठन के 10 से ज्यादा लोगों के ग्रुप बुकिंग के लिए 10% की छूट दी जाएगी।

पहला सेशन 30 जून 2020 को सुबह 11 बजे (आईएसटी) होगा। 

रजिस्ट्रेशन लिंक:

शेड्यूल:

फिजिकल फिटनेस – 30 जून 2020

मेन्टल हेल्थ – 15 जुलाई 2020

न्यूट्रिशन एंड लाइफस्टाइल – 4 अगस्त 2020

अडाप्टिंग द न्यू नॉर्मल – 19 अगस्त 2020 

Corona Recovery Rate in India: कोरोना से जूझ रहे देश के लिए खुशखबरी, रिकवरी रेट 50 पर्सेंट के करीब, पीएम मोदी बोले- मास्क बिना घर से निकलने का सोचे भी नहीं

Corona virus Symptoms: सिर्फ खांसी-बुखार और सांस लेने में तकलीफ ही नहीं स्वाद और गंध का महसूस ना होना भी कोरोना का लक्षण

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर