नई दिल्ली. साल का आखिरी सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan 2021) कल लगने वाला है, यह सूर्य ग्रहण भारत में नज़र नहीं आने वाला है. सूर्य ग्रहण सुबह 10 बजकर 59 मिनट पर शुरू हो जाएगा और दोपहर 3 बजकर 07 मिनट पर खत्म होगा, यह ग्रहण वृश्चिक राशि और ज्येष्ठा नक्षत्र में होगा. कल का सूर्यग्रहण भारत में नज़र नहीं आएगा लेकिन राशियों पर इसका असर देखने को मिलेगा.

सूर्यग्रहण के दौरान राहु-केतु के कुप्रभाव से बचने के लिए इन मंत्रों का जाप किया जाना चाहिए-

विधुन्तुद नमस्तुभ्यं सिंहिकानन्दनाच्युत
दानेनानेन नागस्य रक्ष मां वेधजाद्भयात्॥

इस मंत्र का जाप करने से राहु-केतु के दुष्प्रभावों से बचा जा सकता है.

ॐ ह्लीं बगलामुखी सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तंभय
जिह्ववां कीलय बुद्धि विनाशय ह्लीं ओम् स्वाहा ll

इस मंत्र का जाप करने से आपके शत्रु आपसे दूर रहेंगे और आप नकारात्मक शक्तियों से भी बचेंगे.

ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये
प्रसीद-प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:।l

ग्रहण काल के दौरान इस मंत्र का जाप करने से माँ लक्ष्मी प्रसन्न हो जाती हैं. ग्रहण के दौरान इस मंत्र का जाप करने से शुभ फल मिलते हैं.

तमोमय महाभीम सोमसूर्यविमर्दन।
हेमताराप्रदानेन मम शान्तिप्रदो भव॥

शास्त्रों के अनुसार राहु-केतु से शान्ति पाने के लिए इस मंत्र का जाप किया जाता है.

सूर्य ग्रहण के दौरान राहु-केतु से कुप्रभाव से बचने के लिए ये मंत्र अत्यंत लाभकारी माने जाते हैं.

यह भी पढ़ें:

Surya Grahan: जानें कल भारत में कब लगेगा सूर्य ग्रहण, कितना होगा असर?

IND vs NZ 2nd Test 1st Day Live Updates मयंक अग्रवाल ने जड़ा करियर का चौथा शतक भारत का स्कोर 200 पार

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर