नई दिल्ली. कुछ ही दिनों बाद नया साल शुरू होने वाला है. पूरी दुनिया में इसके स्वागत की तैयारी की जा रही है. होटलों, मॉल, पिकनिक स्पॉट के साथ-साथ मंदिर-मस्जिद-चर्च आदि को भी साफ-सुथरा किया जा रहा है. पुराने साल की समाप्ति के साथ ही लोग नए साल के में होने वाले घटनाक्रमों के बारे में भी सोच रहे है. खास कर वैसी घटनाओं के बारे में जो इंसान के बस में नहीं होता है. ऐसी ही एक घटना है – ग्रहण का लगना. यूं तो ग्रहण का लगना एक खगोलीय घटना है. विज्ञान के अनुसार जब सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी तीनों एक ही सीधी रेखा में आ जाते है. तब ग्रहण लगता है. लेकिन धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ग्रहण भगवान पर कष्ट होता है. माना जाता है कि ग्रहण को देखना अशुभ है और इसका प्रभाव विभिन्न राशियों पर भी पड़ता है. हिंदू धर्म में ग्रहणदोष को खत्म करने के तरीके भी बताए गए है.

ग्रहण दो प्रकार का होता है- सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण. आप जानते है कि पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है. जबकि चंद्रमा पृथ्वी के चारो ओर चक्कर काटती है. जब पृथ्वी की परिक्रमा करते हुए चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है तब पृथ्वी पर सूर्य की रोशनी आंशिक या पूर्णरूप से नहीं पहुंच पाती. इसे सूर्य ग्रहण कहा जाता है. साल 2018 में तीन सूर्यग्रहण लगे थे. अब नए साल 2019 में भी तीन सूर्य ग्रहण लगने वाले है.

साल 2019 में लगने वाले सूर्य ग्रहण-
06 जनवरी 2019- साल का पहला सूर्य ग्रहण पहले ही सप्ताह में 6 जनवरी को लगने वाला है. भारतीय समयानुसार यह ग्रहण शाम 5.04 मिनट से रात के 9.18 मिनट तक चलेगा. हालांकि यह सूर्य ग्रहण आंशिक होगा, जिसे भारत में नहीं देखा जाएगा.

02 जुलाई 2019- साल 2019 का दूसरा सूर्य ग्रहण जुलाई के पहले सप्ताह में पड़ेगा. यह सूर्य ग्रहण 11.31 बजे से 02.14 मिनट तक चलेगा. पूर्ण सूर्य ग्रहण होने के बाद भी यह भारत में नहीं दिखेगा.

26 दिसंबर 2019- साल 2019 का तीसरा सूर्य ग्रहण आखिरी सप्ताह में पड़ेगा. 26 दिसंबर 2019 को पड़ने वाला यह ग्रहण 08.17 मिनट से 10.57 तक चलेगा. इस ग्रहण को भारत में भी देखा जाएगा. इस कारण इस ग्रहण का दोष भारतीयों पर भी पडे़गा.

Chhath Vrat: जमीन पर सोना पड़ता है, त्यागा जाता है खाना, बेहद मुश्किल होता है छठ का व्रत 

Karwa Chauth 2018 Moon Rising Time : करवा चौथ पर इस समय निकलेगा चांद, ये है पूजा विधि 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App