नई दिल्ली: 15 जनवरी 2018 को सूर्यग्रहण लगेगा. बेशक ये ग्रहण भारत में न हो लेकिन इस सूर्यग्रहण का प्रभाव भारत पर भी पड़ेगा. इस साल का ये पहला सूर्यग्रहण होगा. इससे पहले पूर्णिमा के दिन चंद्रग्रहण पड़ा था. गुरुवार को पड़ने वाला ये सूर्यग्रहण कई मायनों में खास है. सूर्यग्रहण के 12 घंटे पहले सूतक लग जाते हैं और इस दौरान कुछ कामों की मनाही होती है. भारतीय समयानुसार, इस वर्ष सूर्यग्रहण 15 फरवरी की रात 12 बजकर 25 मिनट पर शुरू होगा और सुबह 4:18 बजे तक रहेगा.

हिंदू परंपरा के अनुसार के ग्रहण के बाद स्नान- दान का खास महत्व होता है. हिंदू मान्यताओं के मुताबिक ग्रहण खत्म हो जाने के बाद स्नान करना चाहिए व पूरे घर को गंगाजल से शुद्ध करना चाहिए. ऐसा करने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है. बता दें सूर्यग्रहण उस समय लगता है जब चांद, पृथ्वी और सूर्य के बीच में आ जाता है. इस परिस्थिति को सूर्यग्रहण कहा जाता है.

1. सूर्यग्रहण के दिन सूर्य को नंगी आंखों से नहीं देखना चाहिए. ऐसा करने से आंखों की रोशनी को खतरा हो सकता है.
2. इस दिन खाने की किसी भी वस्तु को खुले में न छोड़ें. अगर सूर्य की रोशनी ऐसी में खाने में पड़ती है तो घर में नकारात्मक ऊर्जा आती है. ऐसा न हो इसीलिए इस दिन खाने पीने की चीजों में तुलसी का पत्ता रखें.
3. सूर्यग्रहण के दौरान घर में मंदिरों के कपाट बंद रखें. ज्योतिषियों की मानें तो इस दौरान मंदिर का द्वार खुले नहीं छोड़ने चाहिए वरना घर की सुख-समृद्धि दूर चली जाती है.
4. किसी भी ग्रहण में गर्भवती महिलाओं का घर से बाहर नहीं जाना चाहिए. साथ ही गर्भवती महिलाओं को इस दौरान कांटने का काम नहीं करना चाहिए.
5. सूर्यग्रहण के दौरान खान-पान न करें. इस अवधि से पहले ही भोजन कर लें. ग्रहण के दौरान भोजन करना शुभ नहीं माना जाता.

मध्य प्रदेश: महाशिवरात्रि का प्रसाद खाकर बीमार हुए डेढ़ हजार लोग, अस्पताल में जमीन पर लिटाकर हुआ इलाज

16 फरवरी के सूर्यग्रहण का इन राशियों पर होगा असर, कुंभ राशि वाले बरतें ये सावधानियां