नई दिल्ली. यश और वैभव के देवता माने जाने वाले भगवान सूर्यदेव की पूजा अराधना रविवार के दिन की जाती है. मान्यता है कि रविवार को सूर्य भगवान की पूजा से घर की दरिद्रता दूर होती और समाज में मान-सम्मान की वृद्धि होती है. इसके साथ ही धन प्राप्ति के लिए भी रविवार को सूर्यदेव की अराधना की जाती है. कहा जाता है कि अगर सूर्य देव प्रसन्न हो जाए तो भक्तों के संकट दूर कर देते हैं. लेकिन सूर्य देव की पूजा से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना काफी जरूरी बताया गया है.

रविवार के दिन सबसे पहले सुबह उठकर स्नान करें और फिर सूर्य भगवान को जल अर्पित करें. जल अर्पित करने के लिए तांबे का लौटे का प्रयोग करें. जल अर्पित करने से पहले उस तांबे के लौटे में जल भरें और चावल-फूल डालें. साथ ही रविवार के दिन पीले या लाल कपड़े,गेंहू, गुड़, माणिक्य, तांबे का बर्तन, लाल चंदन आदि चीजों का दान करें. इसके साथ ही सूर्य भगवना को प्रसन्न करने के लिए रविवार के दिन व्रत करें, जब जल अर्पित कर लें तो धूप और दीपक जलाकर पूजन करें. रविवार के दिन एक बार सिर्फ फलहार करें.

दरअसल रविवार के दिन सूर्य देव के पूजन और व्रत से जीवन की सभी परेशानियों का समाधान होता है. इसके साथ ही सुबह उठते ही सूर्य को जल अर्पित करना भी काफी ज्यादा शुभ माना जाता है. अगर ऐसा रविवार के साथ प्रतिदिन करते हैं तो बहुत अच्छी बात है. रविवार को सूर्य को जल अर्पित करने का खास महत्व बताया गया है. सूर्य को जल अर्पित करने से व्यक्ति के जीवन की परेशानियां दूर होती हैं. सूर्यदेव की कृपा व्यक्ति के ऊपर बरसने लगती है.

Vastu Shastra Home Tips: जिंदगी बदल देंगे वास्तु शास्त्र के ये असरदार टिप्स, होगी धन की बारिश

Lord Surya Tips Sunday: रविवार को पीपल के पेड़ के पूजन से बदलेगी किस्मत, सूर्य देव की कृपा से होगी धन वर्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App