नई दिल्ली: इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 11 अगस्त को पड़ने वाला है. हालांकि साल का यह आखिरी सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा, इसे नॉर्थ अमेरिका, नॉर्थ पश्चिम एशिया, साउथ कोरिया मास्को, चीन जैसे कई देशों के लोग देखेंगे. वहीं लंदन में यह सूर्य ग्रहण 9 बजकर 2 मिनट पर शुरू होगा. बता दें कि सूर्य ग्रहण की जैसी स्थित तब बनती है जब सूर्व व पृथ्वी के बीच से चंद्रमा गुजरता है.

जिसकी वजह से सूरज की कुछ रोशनी को वो रोक लेता है. जिसका असर धरती पर दिखाई देता है. इसी को सूर्य ग्रहण कहते हैं. बता दें कि नासा पहले ही बता चुका था कि इस साल कुल तीन सूर्य ग्रहण देखने को मिलेंगे. जिसमें पहला 6 जनवरी को था दूसरा 2 जुलाई और तीसरा 26 अगस्त को पड़ेगा. ऐसे में आईए जानते हैं इस साल के आखिरी और तीसरे सूर्य ग्रहण से जुड़ी कुछ खास बातें.

1- साल 2019 का ये आखिरी सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा. केवल कुछ देशों जैसे की इसे नॉर्थ अमेरिका, नॉर्थ पश्चिमी एशिया, साउथ कोरिया, मास्को, चीन, मंगोलिया, कनाडा, ग्रीनलैंड, आइसलैंड, स्कैंडेविया जैसे कई देशों में दिखाई देगा. वहीं लंदन में सूर्यग्रहण का टाइम सुबह 9 बजकर 2 मिनट पर शुरू होगा.

2- भारत में यह सूर्यग्रहण का सूतक काल 10 अगस्त की देर रात 12 घंटे पहले 1 बजकर 32 मिनट पर शुरू हो जाएगा. हालांकि यहा पर दिखेगा नहीं इसलिए सूतक काल का प्रभाव ना के बराबर ही माना जाएगा. बता दें कि साल कुल पांच ग्रहण थे. जिनमें तीन सूर्यग्रहण और दो चंद्र ग्रहण था. दो सूर्यग्रहण के बाद अब ये तीसरा सूर्य ग्रहण है.

3- यह आंशिक सूर्य ग्रहण 11 अगस्त दोपहर 1.32 बजे से शुरू होगा जो शाम 5 बजे तक समाप्त होगा. भारत में इस आंशिक सूर्य ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले रात के 1.30 बजे के बाद से शुरू होगा. इससे पहले 27 जुलाई को पूर्ण चंद्र ग्रहण था जिसको पूरी दुनिया ने देखा.

Solar Eclipse 2018: साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 11 अगस्त को, इन 4 राशियों पर पड़ेगा बुरा प्रभाव

Lunar Eclipse Photos: भारत के इन शहरों समेत दुनियाभर में ऐसा रहा चंद्रग्रहण का नजारा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App