नई दिल्ली. आज यानी रविवार 13 अक्टूबर 2019 को शरद पूर्णिमा मनाई जा रही है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पूरे साल में सिर्फ इसी दिन चंद्रमा सोलह कलाओं से परिपूर्ण होता है. हिंदू धऱ्म में शरद पूर्णिमा का विशेष महत्व बताया गया है. शरद पूर्णिमा को कौमुदी व्रत, कोजगार पूर्णिमा और रास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता हैं. हिंदू शास्त्रों के अनुसार इस रात मां लक्ष्मी यह देखने के लिए घूमती हैं कि कौन जाग रहा है और जो व्यक्ति जाग रहा होता है मालक्ष्मी उसका कल्याण करती हैं और जो सो रहा होता है वहां महालक्ष्मी नहीं रुकती हैं.

लक्ष्मीजी को जागर्ति कहने के कारण इश व्रत का नाम कोजागरी व्रत पड़ा है. इस दिन मां लक्ष्मी का व्रथ रखने और पूजन करने का विधान है. शरद पूर्णिमा की रात को दीपावली से भी ज्यादा खास माना जाता है क्योंकि इस रात मां लक्ष्मी स्वयं अपने भक्तों को संपत्ति देने के लिए आती हैं. कहा जाता है कि अगर इस रात आपको धन का खजाना पाना है तो माता लक्ष्मी की पूजा जरूर करनी चाहिए.

कोजागरी लक्ष्मी पूजा शुभ मुहूर्त: Kojagari Lakshmi Puja Subh Muhurat

  • पूर्णिमा तिथि प्रारंभ- 13 अक्टूबर को सुबह 12:36 से
  • पूर्णिमा तिथि समाप्त- 14 अक्टूबर- दोपहर 02.37 तक

Also Read, ये भी पढ़ें– Karva Chauth Mehndi Trends 2019: इस करवा चौथ पर आप भी लगाए बॉलीवुड स्टार की तरह खूबसूरत मेहंदी डिजाइन

कोजागरी लक्ष्मी पूजा व्रत विधि: Kojagari Lakshmi Puja Vrat Vidhi

  • रात के समय मां लक्ष्मी के सामने शुद्ध घी का दिया जलाकर पूरे विधि विधान से पूजा करनी चाहिए.
  • इसके साथ ही 11, 21 या 51 अपनी इच्छानुसार दीपक जलाकर मंदिरों, बाग-बगीचों, तुलसी के नीचे या भवन में रखना चाहिए.
  • सुबह होने पर स्नान करके देवराज इंद्र की पूजा करके ब्राह्मणों को घी-शक्कर मिश्रित खीर का भोजन कराकर वस्त्र आदि दान दक्षिणा देना चाहिए.
  • इस दिन श्रीसूक्त, लक्ष्मी स्तोत्र का पाठ ब्राह्मण द्वारा कराकर कमलगट्टा, बेल, पंचमेव या खईर द्वारा दशांश हवन करवाना चाहिए.
  • व्रत और पूजा को विधि विधान से पूरा करने से कोजागर व्रत करने से माता लक्ष्मी अति प्रसन्न होती हैं और धन-धान्य, मान प्रतिष्ठा आदि सभी सुख का वरदान देती हैं.

Karva Chauth 2019: करवाचौथ के मौके पर इन स्टाइलिश साड़ी, लहंगों से आप भी दिखा सकती हैं बॉलीवुड एक्ट्रेस जैसा लुक

Sharad Purnima 2019: आज है शरद पूर्णिमा, जानिए चांदनी रात में खीर की तासीर से लेकर व्रत का महत्व

Sharad Purnima Date 2019: कब मनाई जाएगी शरद पूर्णिमा, अविवाहितों के लिए खास है व्रत, जानें क्या है खीर के सेवन का महत्व

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App