नई दिल्ली. Sawan Somvar 2019: श्रावण मास साल के सभी महीनों में से सबसे खास और पवित्र माना जाता है. दरअसल सावन मास में भगवान शंकर की उपासना की जाती है. ऐसे में सोमवार यानी आज 22 जुलाई को सावन महीने का पहला सोमवार है. सावन के पहले सोमवार के दिन देश के सभी शिवालयों भगवान शिव के जयकारों से गूंज रहे हैं. पुराणों में सावन सोमवार का विशेष महत्व माना गया है. इस बार का सावन महीने का यह पहला सोमवार बेहद खास इसलिए माना जा रहा है क्योंकि इस बार ऐसा माना जा रहा है कि 125 साल बाद कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि यानी नागपंचमी तिथि के दिन सावन का पहला सोमवार पड़ा है, जो एक अनोखा संयोग है.

श्रावण मास में इस बार 4 सोमवार पड़ रहे हैं. जो क्रम अनुसार पहला सोमवार 22 जुलाई, 29 जुलाई, 5 अगस्त और 12 अगस्त 2019 को पडेंगे. हिंदू धर्म में ऐसी मान्यता है कि सावन के सोमवार में व्रत रखने और भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने से भोले भंडारी प्रसन्न होकर अपने भक्त की हर मनोकामना को पूर्ण करते हैं. दरअसल शास्त्रों में सावन के सोमवार को विशेष मान्यता प्राप्त है. सावन के सोमवार में शिवलिंग पर जलाभिषेक करना काफी शुभ माना गया है.

सावन के पहले सोमवार पर इस विधि से करें भगवान शिव की पूजा-

  • श्रावण मास के पहले सोमवार पर सुबह जल्द उठकर स्नान करने के बाद भगवान शिव के मंदिर जाएं.
  • मंदिर जाने के बाद भगवान शिव को बेलपत्र, धतूरा, कच्चे चावल, घी और शहद आदि पूजा की समाग्री को अर्पित करें.
  • इसके अलावा शिवलिंग, माता पार्वती, नंदी महाराज पर पूर्ण विधि से जलाभिषेक करें.
  • इसके बाद धूप-दीप जलाकर भगवान शिव की उपासना करें.
  • व्रत रखने के साथ ध्यान रहे है कि भूलकर भी अन्न का सेवन न करें.
  • शाम को भगवान शंकर की पूजा करने के साथ आरती का गाए और दीप जलाने के बाद व्रत को खोलें.

Shravan Month 2019: सावन मास 2019 में इस बार बन रहें 10 शुभ संयोग, इन बातों का रखें खास ध्यान

Lord Shiva Monday Tips: सोमवार के ये असरदार उपाय दूर करेंगे हर सकंट, भोलेनाथ की कृपा से बरसेगा धन