Sarva Pitru Amavasya 2020 Date: सर्व पितृ अमावस्या 2020 का हिंदू धर्म में बड़ा ही महत्वपूर्ण स्थान है. दरअसल इस वर्ष सर्व पितृ अमावस्या 2020 17 सितंबर 2020 को पड़ रही है. सर्व पितृ अमावस्या के दिन लोग पितरों का श्राद्ध और तर्पण का काम करते हैं. आपको अपने पितरों का श्राद्ध इस दिन करने से पहले श्राद्ध की विधि अवश्य ही जान लेनी चाहिए तो आइए जानते हैं. इस आर्टिकल में सर्व पितृ अमावस्या पर पितरों का श्राद्ध कैसे करें इस बात की सारी जानकारी दी हुई है.

इन विधियों से सर्व पितृ अमावस्या 2020 पर करें पितरों का श्राद्ध

सर्व पितृ अमावस्या के दिन सुबह स्नान करके गायंत्री मंत्र का जाप करके सूर्य को जल देना चाहिए.

आपको सर्व पितृ अमावस्या पर किसी ब्राह्मण को श्राद्ध का भोजन ग्रहण करने के लिए निमंत्रण अवश्य देना चाहिए.

इसके बाद श्राद्ध के बनाए गए भोजन से पंचबलि यानी गाय, कुत्ते, कौए, चीटियों और देवताओ का भोजन अवश्य निकाल लें.

पंचबलि भोजन निकालने के बाद अपने सभी पितरों को याद करें और उनका एक साथ श्राद्ध करें.

इसके बाद ब्राह्मण को भोजन अवश्य कराएं और उन्हें वस्त्र, दक्षिणा आदि देकर ही विदा करें.

ब्राह्मण को विदा करते समय आपको उनके पैर अवश्य छूने चाहिए और उनका आशीर्वाद प्राप्त करना चाहिए.

इसके बाद किसी गरीब या जरूरतमंद को भी भोजन कराना चाहिए और उसे सामर्थ्य के अनुसार दक्षिणा देनी चाहिए.

सर्व पितृ अमावस्या के दिन आपको अपने भांजे को भी भोजन अवश्य कराना चाहिए और उसे सामर्थ्य के अनुसार दक्षिणा देनी चाहिए.

इस दिन आप पितरों के प्रति जो भी दान कर सकते हैं उसे अवश्य करें. क्योंकि इस दिन किया गया दान पितरों तक पहुंचता है.

सर्व पितृ अमावस्या के दिन शाम के समय में आपको अपने घर में पितरों के नाम से 16 दीपक अवश्य जलाने चाहिए.

Karwa Chauth 2020 date in India: करवा चौथ 2020 कब है, इस साल चांद निकलने का समय

Shanivaar Ke Totke: सिर पर पैसों की मार है तो शनिवार को कर लें ये टोटके, शनिदेव की बरसेगी कृपा