नई दिल्ली. Saphala Ekadashi 2019: इस बार सफला एकादशी 22 दिसंबर को पड़ रही है. पौष महीने की कृष्ण पक्ष की एकादशी को सफला एकादशी कहते हैं. हिन्दू धर्म ग्रंथों में सफला एकादशी का व्रत को काफी महत्वपूर्ण बताया गया है. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है और आपकी सभी मनोकामना पूरी होती हैं. अगर आप जान लें कि इस सफला एकादशी व्रत पर क्या करें और क्या ना करें तो आपका यह व्रत सफल साबित होगा.

सफला एकादशी पर क्या करें (Saphala Ekadashi Par Kya Karein)

  1. सफला एकादशी व्रत रखने वाले व्यक्ति को दशमि से ही नियमों का पालन करना चाहिए.
  2. सफला एकादशी में रात्रि जागरण जरूर करना चाहिए. ऐसा करने से कई सालों की तपस्या का फल के बराबर होता है.
  3. सफला एकादशी में भगवान विष्णु पर तुलसी जरूर चढ़ाएं क्योंकि ऐसा ना करने से करने से आपको व्रत का फल नहीं मिलेगा.
  4. अगर सफला एकादशी व्रत रखने में असमर्थ हैं तो सफला एकादशी की कथा अवश्य सुनें.
  5. व्रत ना रखा हो तब भी सूर्य उदय होने से पहले उठ जाएं.
  6. सफला एकादशी में भगवान विष्णु को पीली मिठाई का ही भोग लगाएं.
  7. सफला एकादशी व्रत पारण द्वादशी को ही करें. एकादशी के दिन पारण करने से व्रत का फल निष्फल हो जाता है.
  8. सफल एकादशी के व्रत पारण के बाद गाय को को भोजन अवश्य कराएं और किसी गरीब को दान अवश्य दें.

Saphala Ekadashi Time 2019: सफला एकादशी का समय

इस बार सफला एकादशी का व्रत 22 दिसंबर को रखा जाएगा. सफला एकादशी तिथि 21 दिसंबर शाम 5.15 बजे शुरू हो रही है और 22 दिसंबर दोपहर 3.22 बजे यह समाप्त हो जाएगी. वहीं सफला एकादशी व्रत को खोलने का समय 23 दिसंबर सुबह 7.10 बजे से लेकर 9.14 मिनट तक होगा.

Saphala Ekadashi 2019 Date: सफला एकादशी व्रत 22 दिसंबर को, जानें पूजा विधि, व्रत कथा और महत्व

सफला एकादशी पर क्या ना करें (Saphala Ekadashi Par Kya Na Karein) 

  1. सफला एकादशी व्रत में भूलकर भी नमक और चावल का प्रयोग ना करें.
  2. सफला एकादशी व्रत में झूठ नहीं बोलें.
  3. सफला एकादशी में पान का सेवन न करें.
  4. सफला एकादशी में किसी से लड़ाई झगड़ा ना करें.
  5. सफला एकादशी में तुलकी को ना तोड़े. पूजा में इस्तेमाल करने के लिए दशमी को ही पत्तिया तोड़कर रख लें.
  6. सफला एकादशी व्रत में मांस-मदिरा का सेवन ना करें.
  7. सफला एकादशी व्रत करने वाला व्यक्ति किसी खाट, बेड पर ना सोए.

Surya Grahan 2019 In December India: साल 2019 के आखिरी सूर्य ग्रहण के सूतक काल में भूलकर भी ना करें ये कार्य 

Utpanna Ekadashi 2019: आज मनाया जाएगा उत्पन्ना एकादशी, जानिए पूजा विधि के बारे में और क्या-क्या हैं इस पूजा के लाभ 

Story of Kalashtami Vrat : कालाष्टमी के दिन करें कालभैरव की पूजा, इनकी उपासना से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App