नई दिल्ली. देश में 13 सितंबर से पित पक्ष 2019 की शुरुआत होने जा रही है जो 28 सितंबर को खत्म होगी. पौराणिक ग्रंथो में कहा गया है कि व्यक्ति को किसी देवता की पूजा से पहले पितरों यानी पूर्वजों की पूजा अवश्य करनी चाहिए. मान्यता है कि पितरों की पूजा से देवता खुश होते हैं. माना जाता है कि विधिवत पृत-पूजन करने से पितरों का मृत्युलोक में भटकना नहीं पड़ता है. इसके साथ ही उनकी आत्मा को मुक्ति मिल जाती है. पितरों की आत्मा की शांति के लिए पिंडदान काफी ज्यादा शुभ बताया गया है जिसकी परंपरा सदियों से चलती आ रही है. ऐसे में यह भी जानना जरूरी है कि किन चीजों का दान व्यक्ति को लाभकारी साबित होता है.

1. गाय दान- हिंदु धर्म में गाय के दान को महादान कहा जाता है. इसलिए माना जाता है कि पितृ पक्ष के दौरान गाय का दान करना चाहिए.

2. भूमि दान- अगर श्राद्ध करने वाले व्यक्ति के पास पर्याप्त जमीन है तो उसका छोटा टुकड़ा किसी गरीब व्यक्ति को दान करना चाहिए. अगर जमीन का छोटा टुकड़ा नहीं संभंव है तो एक मिट्टी का छोटा टुकड़ा देकर पिंड दान करना चाहिए.

3. तिल और सोना दान- पितृ पक्ष में तिल का दान काफी अच्छा माना गया है. वहीं पितृ पक्ष में सोने का दान भी काफी शुभ माना गया है. अगर सोना नहीं देने में सक्षम हैं तो उसके बदले किसी ब्राह्मण को दक्षिणा दे दें.

4. घी और अनाज का दान- पितृ पक्ष के दौरान घी का दान काफी शुभ माना जाता है. इस दौरान किसी बर्तन में गाय का शुद्ध घी दान करें. वहीं अनाज दान करना भी काफी शुभ बताया जाता है. हालांकि, अनाज का दान संकल्प के साथ करना चाहिए.

5. वस्त्र और चांदी दान- पितृ पक्ष के दौरान कपड़े दान का दान शुभ बताया गया है. खास ध्यान रखें कि जब किसी को कपड़ा दान में दे तो वह कहीं से भी फटा नहीं होना चाहिए और न ही इस्तेमाल किया गया हो.

6. गुड़ और नमक की दान- पितृ पक्ष के दौरान गुड़ का दान काफी शुभ रहेगा. वहीं पितृ पक्ष के दौरान नमक के दान से भी पितर काफी खुश होते हैं.

Pitru Paksha 2019: पितृ पक्ष के दौरान गर्भवती महिलाएं भूलकर भी न करें ये काम वरना हो सकता बड़ा नुकसान

Pitru Paksha 2019: पितृ पक्ष के दौरान गर्भवती महिलाएं जरूर करें ये काम, शिशु की होगी रक्षा, मिलेगा पितरों का आशिर्वाद

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर