नई दिल्ली. देशभर में नवरात्रि ( Navratri 2021 ) की शुरुआत हो गई है, ऐसे में पूरे देश में नवरात्री की धूम देखने को मिल रही है. चाहे, गुजरात हो या बंगाल देश के अलग-अलग राज्यों में नवरात्रि बड़े ही उल्लास के साथ मनाई जाती है. अश्विन महीने की नवरात्रि में मां की उपासना करने के साथ-साथ उत्‍सव भी मनाया जाता है.

कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

अश्विन महीने की प्रतिपदा से नवरात्रि शुरू होती हैं. इसी दिन कलश स्थापना की जाती है. इस साल 7 अक्‍टूबर 2021 को कलश स्‍थापना (Kalash Sthapana 2021) के लिए शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat) सुबह 06:17 मिनट से 10:11 मिनट तक रहेगा. इसके बाद अभिजीत मुहूर्त 11:46 मिनट से 12:32 मिनट तक रहेगा. इस दौरान माँ दुर्गा की पूजा की जाती है. इस पर्व को मनाने की अलग-अलग मान्यताएं हैं. गुजरात में नवरात्र के दौरान गरबा और डांडिया खेलने की मान्यता है. वहीं बंगाल में इसे शिदूर खेला से मनाया जाता है.

कलश स्थापना की विधि

अश्विन महीने की प्रतिपदा से नवरात्रि शुरू होती हैं. इसी दिन कलश स्थापना की जाती है. इस साल 7 अक्‍टूबर 2021 को कलश स्थापना के लिए शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat) सुबह 06:17 मिनट से 10:11 मिनट तक रहेगा. इसके बाद अभिजीत मुहूर्त 11:46 मिनट से 12:32 मिनट तक रहेगा.

 

यह भी पढ़ें :

PUNJAB सरकार का तीन लाख पेंशनर्स को बड़ा तोहफ़ा, इस तारीख से बढ़ाई पेंशन

Textile Sector कपड़ा उद्योग के लिए स्थापित होंगे 7 मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल रीजन एंड अपैरल पार्क

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर