नई दिल्ली. इस समय शरद नवरात्रि 2019 पूरे देश में बड़ी धूम-धाम से मनाई जा रही है. नौ दिवसीय उत्सव 29 सितंबर से शुरू हो चुका है अब यह 7 अक्टूबर 2019 को समाप्त होगा. नवरात्रि भारत के सबसे बड़े त्योहारों में से एक, नवरात्रि देवी दुर्गा की पूजा के लिए समर्पित है. भक्त इन शुभ दिनों पर देवी के नौ अवतारों की पूजा करते हैं. नवरात्रि का आठवां दिन अष्टमी है. कई घरों में अष्टमी बहुत धूम-धाम से मनाई जाती है. इसे बंगालियों द्वारा दुर्गा पूजा का सबसे महत्वपूर्ण दिन भी माना जाता है. जानिए हिंदुओं के लिए यह दिन इतना महत्वपूर्ण क्यों है.

Ashtami Date: अष्टमी तिथि और समय
इस साल अष्टमी 6 अक्टूबर 2019 को पड़ रही है

अष्टमी तीथि शुरू होगी- सुबह: 09:51 बजे से 05 अक्टूबर से
अष्टमी तिथि समाप्त होगी- 10:54 सुबह 06 अक्टूबर 2019 तक

Significance Of Ashtami, Sandhi Puja And Kanjak-अष्टमी संध्या पूजा समय और कंजक का महत्व

अष्टमी, नवरात्रि का आठवां दिन देवी महागौरी को समर्पित है. कुछ लोग शुभ दिन पर कन्या पूजन या कंजक भी करते हैं. इस दिन लोग नौ कन्याओं को अपने घर बुलाते हैं और पानी से उनके पैर धोते हैं.

कन्याओं को हलवा, काले चने का प्रसाद परोसा जाता है. उन्हें टिफिन बॉक्स आदि जैसे सुंदर उपहार भी दिए जाते है. इन नौ कन्याओं को दुर्गा के अवतार के रूप में देखा जाता है. कुछ लोग नवरात्रि, या नवमी के नौवें दिन कंजक का पालन करते हैं. बंगालियों के लिए, दुर्गा अष्टमी पूरे त्योहार का सबसे महत्वपूर्ण दिन है. नवरात्रि के दौरान साबूदाने की खिचड़ी लोग खूब खाना बेहद पसंद करते हैं.

Navratri 2019 Day 6 Katyayani LIVE Updates: देशभर में नवरात्रि की धूम, छठे दिन दुर्गा मां के कात्यायनी रूप की होगी पूजा, जानें पूजा विधि, व्रत कथा और भोग समेत पूरी जानकारी

Happy Durga Puja 2019 Wishes: इस दुर्गा पूजा अपने परिजनों, दोस्तों को व्हाट्सएप, फेसबुक पर इन मैसेज के जरिए करें विश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App