नई दिल्ली. Nag Panchami 2019: हिंदू धर्म में सावन मास बेहद पावन महीनों में से एक होता है. श्रावण मास में कई पावन पर्वों का संयोग रहता है. उन पर्वों में से एक नाग पंचमी को हिंदू धर्म में बड़ी ही मान्यता के साथ मनाया जाता है. हर साल सावन महीने के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली पचंमी को नाग पंचमी के रूप में मनाया जाता है. इस बार नाग पंचमी 5 अगस्त 2019 को है. शास्त्रों के अनुसार सर्प भगवान के अत्यंत प्रिय माने गए है. तभी तो भगावन शिव सर्प को अपने गले में धारण किए हुए हैं. दूसरी भगवान विष्णु भी शेषनाग पर खुद को विराजमान किए हुऐ हैं. ऐसे में नाग पंचमी के दिन नाग को देवता रूप में मानकर उनकी पूजा-अर्चना की जाती. ऐसे में आपको बताने जा रहे हैं कि नाग पंचमी की क्या महत्व और किस विधि से नाग देवता की पूजा करनी चाहिए. साथ ही इस बार किस शुभ मुहूर्त में पड़ रही है नाग पंचमी.

गौर किया जाए नाग पंचमी के महत्व के बारे में तो बता दें कि नाग पंचमी के दिन सर्प की पूजा करना अत्यंत शुभ माना गया है. माना जाता है कि नाग पंचमी को नाग देवता को दूध पिलाने से और रूद्राभिषेक करने भगवान शंकर प्रसन्न होते हैं. नाग पंचमी के दिन नाग देवता के 12 स्वरूपों की विधि विधान से उपासना की जाती है. वहीं बात करें इस बार नाग पंचमी के शुभ मुहूर्त के बारे में तो इस बार नाग पंचमी सावन महीने के तीसरे सोमवार के दिन है, जो कि एक अनोखा और दिव्य संयोग है. 5 अगस्त के दिन नाग पंचमी का शुभ मुहूर्त सुबह 5:49 से 8:28 के बीच पड़ रहा है. जबकि तिथि समाप्ति इसी दिन दोपहर 3:54 तक रहेगी.

जाने नाग पंचमी पर कैसे करें पूजा-

  • नाग पंचमी के दिन घरों के दरवाजों और दीवारों के कौनों पर कोयले को दूध में मिलकार सर्प का चिन्ह बनाएं.
  • सुबह नित क्रिया और स्नान करने के बाद घर में सैवई और चावल बनवाएं.
  • उसके बाद एक लकड़ी के तख्ते पर नाग देवता की मूर्ति स्थापित करें.
  • जल, दूध, चंदन, सुंग्धित फूल, आदि पूजन सामग्री नाग देवता पर अर्पित करें.
  • बैल पत्र, हरिद्रा, सिंदूर, नैवेद्ध आदि को विधि पूर्व नाग देवता को चढ़ा कर पूजा करें.
  • साथ ही काल सर्पदोष वाले लोग नाग पंचमी पर ऊँ कुरुकुल्य हुं फट स्वाहा मंत्र का जाप करें.
  • नाग पंचमी के दिन शिवालय यानी शिव मंदिर पर जाकर सर्प को दूध पिलाना काफी शुभ माना जाता है.

Sawan Somvar 2019: सावन का पहला सोमवार आज, 125 साल बाद श्रावण मास में पड़ रहा है ये अनोखा संयोग

Nag Panchami 2019 Date: जानें कब है नाग पंचमी 2019, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि