नई दिल्ली. Lunar Eclipse 2019 on 21 January: इस साल का पहला चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse 2019) 21 जनवरी को लगने वाला है. खगोलीय घटना सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण 2019 से पहले पड़ने वाले कुछ अशुभ समय को सूतक के रूप में जाना जाता है. हिंदू मान्यताओं के मुताबिक, सूतक के दौरान धरती का वातावरण प्रदूषित रहता है और प्रदूषण की वजह से किसी भी हानिकारक प्रभाव से बचने के लिए लोगों को ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए.

इस साल के पहले पूर्ण चंद्र गहण 2019 (Lunar Eclipse 2019) के दौरान सूतक ग्रहण से पहले 3 प्रहरों में लगेगा. जबकि पूर्ण सूर्य ग्रहण के दौरान सूतक 4 प्रहरों के लिए मनाया जाता है. सूर्योदय से सूर्योदय तक पूर्ण चंद्र ग्रहण2019 (Chandra Grahan 2019) सूतक के कुल 8 प्रहर हैं. इसलिए सूतक चंद्र ग्रहण से 9 घंटे पहले और सूर्य ग्रहण से 12 घंटे पहले और मनाया जाएगा. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं के लिए सावधानी – गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान अक्सर सलाह दी जाती है कि वह बाहर न निकलें. ऐसी मान्यता है कि राहु और केतु के प्रभाव के कारण नवजात बच्चा विकलांग हो सकता है और महिलाओं में गर्भपात होने की आकांशा बढ़ जाती है.

गर्भवती महिलाएं ग्रहण (Chandra Grahan 2019) के दौरान न तो किसी प्रकार के कपड़े को काटें और न ही सिलवाएं. इसके अलावा ऐसा कोई काम करें जिससे आपके बच्चे पर बुरा प्रभाव पड़े. ग्रहण और सूतक के दौरान सभी प्रकार के खाने वाली चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए. पूर्ण सूर्य ग्रहण 2019 (Chandra Grahan 2019) से नौ घंटे पहले किसी भी खाद्य पदार्थ का सेवन करने से बचें. लेकिन बच्चों, बीमार और बूढ़े लोगों के लिए खाने की सीमा केवल एक प्रहर या 3 घंटे तक ही मान्य है.

Lunar Eclipse 2019: 21 जनवरी को लगेगा साल 2019 का पहला पूर्ण चंद्र ग्रहण, जानिए समय और उसका प्रभाव

Lunar Eclipse 2019 Date: साल 2019 में लगने वाले हैं दो चंद्र ग्रहण, जानिए डेट, समय और उसका प्रभाव

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App