नई दिल्ली. देवों के देव महादेव भोलेनाथ शिव शंकर भगवान का पुत्र और विघ्नहर्ता गणेश जी की पूजा-अराधना बुधवार के दिन की जाती है. किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले बप्पा की पूजा का विधान बताया गया है. कहा जाता है कि गणपति बप्पा की पूजा से अशुभ भी शुभ में तब्दील हो जाता है और गणेश जी की कृपा से व्यक्ति के जीवन के सभी संकट दूर हो जाते हैं. ऐसे में अगर आप भी परेशानी से जूझ रहे हैं तो आज हम आपको बता रहे हैं बुधवार की गणेश जी की पूजा विधि, इसके साथ ही बताएंगे बुधवार को कौनसे उपाय से मिलेगा आपको लाभ.

गणेश जी बुधवार पूजा विधि
बुधवार के दिन गणेश जी का पूजा का विशेष महत्व बताया गया है. इस दिन सबसे पहले व्यक्ति को नहा धोकर साफ सुथरे वस्त्र धारण करने चाहिए जिसके बाद ही पूजा करने बैठें. सबसे पहले गणेश जी की मूर्ति की स्थापना करें. ध्यान रहे कि मूर्ति स्थापित करने से पहले ठीक से उसकी साफ-सफाई कर लें. वहीं स्थापना के समय अगर संभव हो तो गणेश जी की मूर्ति का चेहरा उत्तर दिशा की ओर कर पूजा करें. बुधवार को बप्पा की थाली में धूप, फूल, दीप, चंदन, कपूर आदि सामग्री रखें. साथ ही पूजा के अंत में गणेश भगवान को प्रसाद के रूप में मोदक प्रसाद अर्पित करें. जिसके बाद मन ही मन गणेश जी का ध्यान करते हुए 108 बार ॐ गं गणपतये नमः मंत्र का जप करें.

बुधवार के चमत्कारी उपाय

बुधवार के दिन अगर सुख-शांति और समृद्धि चाहते हैं तो इस दिन बप्पा को गुड़ और घी का भोग लगाएं. जिसके बाद गाय माता को खिला दें. मान्यता है कि ऐसा करने से आपकी आर्थिक परेशानियां दूर होंगी. वहीं अगर आपको घर पर किसी भी तरह की बाधा है तो घर में गणेश जी की सफेद मूर्ति की स्थापना करें. ऐसा करने से आपका भय दूर होगा. वहीं अगर आप चाहते हैं कि नकारात्मक शक्तियां घर के आस-पास भी न भटकें तो घर के मुख्य द्वार पर गणेश जी की मूर्ति लगाएं.

Chandra Grahan 2019 Prabhaav: 16 जुलाई को लगेगा साल 2019 का आखिरी चंद्र ग्रहण, गलत प्रभाव से बचने के लिए करें ये काम

Shravana Purnima 2019 Date Calendar: जानिए कब है श्रावण पूर्णिमा व्रत, सावन पूर्णिमा पूजा विधि और महत्व

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App