नई दिल्ली. करवा चौथ 2018, इस बार 27 अक्टूबर को पड़ रहा है. इस दिन महिलाएं अपने पति के लिए लंबी उम्र के लिए कामना करती हैं. करवा चौथ के दिन निर्जला व्रत रखती हैं. यह व्रत अन्य व्रतों के मुकाबले कई गुना ज्यादा कठिन होता है. इस दिन महिलाएं ही नहीं बल्कि आजकल तो पुरुष भी करवा चौथ का व्रत रखते हैं और भगवान शिव मां पार्वती और चंद्र देव की पूजा की जाती है. इस व्रत में सबसे अहम होता है चंद्र देव को अर्घ्य देकर व्रत खोलना.

करवा चौथ के दिन महिलाएं सारा दिन व्रत रखती हैं और शाम को करवामाता की पूजा करती हैं और कथा सुनती हैं. कई जगह पूजा के दौरान थाली फैराने की भी परंपरा होती है. इस दिन व्रत तभी पूरा होता है जब चंद्रमा को देख अर्घ्य दे दें. ज्योतिष जानकारों के अनुसार इस बार करवाचौथ पर खास संयोग बन रहा है. इस बार चंद्रमा रोहिणी नक्षत्र का होगा. इस लाभ सुहागिन महिलाओं को मिलेगा.

करवा चौथ 2018 पर अर्घ्य का समय
करवा चौथ 2018 के दिन चंद्रमा शाम 7:35 बजे उदय होगा लेकिन चतुर्थी तिथि 7:58 बजे से ही शुरू हो रही है. इस मौके पर व्रती 7:58 बजे के ही अर्घ्य दें. ऐसा करना फलदायी और पूजा को संपन्न बनाएगा. चंद्रमा को अर्घ्य देते वक्त धूप व दीप जलाएं. साथ ही अर्घ्य देते हुए ओम शिवायै नमः से पार्वती जी का, ओम नमः शिवाय से श्री शिव जी का, ओम गं गणपतए नमः से गणेश जी का, ओम हनुमते नमः से  इन मंत्रों का जाप करें.

Karva Chauth 2018 Gift For Wife: करवा चौथ पर पत्नी को दें ये गिफ्ट्स, इन सरप्राइज से महिलाएं हो जाएंगी खुश

Karva Chauth 2018 : सिर्फ पत्नी नहीं बल्कि ये भी रख सकते हैं करवा चौथ का व्रत, जानिए क्या है पूरी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App