नई दिल्ली. करवा चौथ 2018 इस बार 27 अक्टूबर को पड़ रहा है. जब महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए निर्जलना व्रत रखेंगी और भगवान शिव मां पार्वती से पति की लंबी उम्र के लिए कामना करेंगी. सुहागिनों के लिए सबसे खास माने जाने वाला यह व्रत कई रिश्तों को दर्शाता है. दरअसल अब करवा चौथ सिर्फ पत्नी ही नहीं रखती बल्कि बदलते दौर में प्रेमिकाएं भी प्रेमी के लिए करवा चौथ का व्रत रखती हैं  सदैव सलामती की मनोकामना करती हैं.

करवा चौथ का व्रत सिर्फ पति के लिए ही नहीं बल्कि आप जिस शख्स से प्रेम करते हैं उसके लिए व्रत करते हैं. ज्योतिष जानकारों का मनाना अगर बहन भी भाई की सलामती के लिए इस व्रत को रखेंगी तो कोई बुराई नहीं है. व्रत करने से करवामाता का आशीर्वाद ही मिलेगा. कहा जाता है कि प्राचीन समय से बहनें भी इस व्रत को रखती थीं.

यह व्रत कृष्ण भगवान और द्रौपदी से जुड़ा हुआ है. महाभारत में सफलता के लिए अस्त्र शस्त्र ढूंढने गए अर्जुन जब कई दिन बीत जाने के बाद भी नहीं लौटे तो द्रौपदी ने भगवान कृष्ण को याद किया. तब भगवान कृष्ण ने द्रौपदी को करवा चौथ का पवित्र व्रत करने के लिए कहा. जिसके बाद से कहा गया की कुंवारी कन्याएं भाई की सलमाती के लिए करवा चौथ का व्रत रख सकतीहैं.

करवा चौथ व्रत पूजा का शुभ मुहूर्त – 
27 अक्‍टूबर 2018, शनिवार- शाम 5.36 से 6.54 तक .
27 अक्‍टूबर 2018, शनिवार- चंद्रोदय रात 8 बजे .

Karwa Chauth 2018: पति के लंबी उम्र के लिए करवा चौथ पर जरूर करें ये काम

Karwa Chauth 2018: करवा चौथ की सरगी में महिलाएं इन पौष्टिक चीजों को जरूर करें शामिल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर