नई दिल्ली. इस साल देशभर में कार्तिक पूर्णिमा 12 नवबंर को मनाया जाएगा. मान्यता के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा को को हिंदू धर्म में बहुत ही विशेष माना गया है. इस दिन गंगा में स्नान करना और विशेष दान को विशेष महत्व दिया जाता है. कार्तिक पूर्णिमा पर काफी कड़े नियमों का पालन करना होता है. इस दिन आप सभी नियमों का पालन करते हैं तो इसका आपको पूर्ण लाभ मिलेगा. कार्तिक पूर्णिमा को त्रिपुरी पूर्णिमा और गंगा स्नान के नाम से भी जाना जाता है. इस पूर्णिमा का त्रिपुरी पूर्णिमा इसलिए कहा जाता है कि इस दिन ही भगवान शिव ने त्रिपासुर नामक राक्षस का अंत इसी दिन किया था.

कार्तिक पूर्णिमा के दिन ऐसी मान्यता है कि इस दिन कृतिका में शिव शंकर के दर्शन करने से सात जन्म तक व्यक्ति ज्ञानी और धनवान होता है. इस दिन चन्द्र जब अकाश में उदित हो रहा हो उस समय शिवा, संभूति, संतति, प्रीति, अनुसूया और क्षमा इन छ: कृतिकाओं का पूजन करने से शिव जी की प्रसन्नता प्राप्त होती है. इस दिन गंगा नदी में स्नान करने से भी पूरे वर्ष स्नान करने का फाल मिलता है.

आइए जानते हैं इस साल कार्तिक पूर्णिमा पर क्या करें-
1. कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान अवश्य करना चाहिए, यदि आप गंगा स्नान करने नहीं जा सकते हैं तो आप घर में ही थोड़ा सा गंगाजल नहाने के पानी में मिलाकर स्नान करें.
2. कार्तिक पूर्णिमा के दिन आपको गाय का दान, दूध का दान, केले का दान, खजूर का दान, अमरूद का दान, चावल का दान, तिल और आवंले का दान जरूर करना चाहिए.
3. कार्तिक पूर्णिमा के दिन ब्राह्मण, बहन और बुआ को अपनी श्रद्धा के अनुसार वस्त्र और दक्षिणा जरूर दें.
4. कार्तिक पूर्णिमा के दिन शाम के समय जल में कच्चा दूध मिलाकर चंद्रमा को अर्घ्य जरूर दें.
5. कार्तिक पूर्णिमा के दिन जल में दूध, शहद मिलाकर पीपल के वृक्ष पर जरूर चढ़ाना चाहिए और दीपक भी जलाना चाहिए, क्योंकि इस दिन पीपल के पेड़ पर मां लक्ष्मी का वास माना जाता है.

Also Read, ये भी पढ़े- IndiGo Airlines Servers Down Across India : इंडिगो एयरलाइंस का सर्वर हुआ ठप, हजारों यात्री फंसे देश के विभिन्न एयरपोर्टस पर, इंडिगो के काउंटर्स पर लगी यात्रियों की लंबी कतारें

Tulsi Vivah 2019 Date: जानें कब है तुलसी विवाह, शुभ मुहूर्त पूजा विधि

6. कार्तिक पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है, इसलिए इस दिन सत्यनारायण भगवान की कथा अवश्य सुने.
7. कार्तिक पूर्णिमा के दिन घर के मुख्य द्वार पर आम का तोरण जरूर बांधे और द्वार पर रंगोली भी अवश्य बनाएं.
8. कार्तिक पूर्णिमा के दिन अगर आपके घर पर कोई भिखारी आ जाए तो उसे भोजन जरूर कराएं.
9. कार्तिक पूर्णिमा के दिन दीपदान को विशेष माना जाता है, इसलिए इस दिन किसी पवित्र नदी, तालाब आदि में दीप जरूर जलाएं. ऐसा करने से आपको पुण्य फलों की प्राप्ति होगी.
10. कार्तिक पूर्णिमा के दिन तुलसी पूजन जरूर करें और तुलसी के पौधे के नीचे दीपक अवश्य जलाएं.

आइए जानते हैं इस साल कार्तिक पूर्णिमा क्या चीज नहीं करें-
1. कार्तिक पूर्णिमा के दिन तामसिक भोजन का प्रयोग बिल्कुल न करें, क्योंकि इस पूर्णिमा को अति विशेष माना जाता है.
2. कार्तिक पूर्णिमा के दिन शारीरीक संबंध न बनाएं,यदि आप ऐसा करेंगे तो आपको चंद्रमा के दुष्प्रभाव का सामना करना पड़ेगा.
3. कार्तिक पूर्णिमा पर घर में किसी भी प्रकार का झगड़ा बिल्कुल नहीं करना चाहिए.
4. कार्तिक पूर्णिमा के दिन शराब का सेवन बिल्कुल भी न करें, क्योंकि शराब मनुष्य को अंहकार की ओर ले जाती है.
5. कार्तिक पूर्णिमा के दिन गरीब और मजबूर लोगों का अपमान नहीं करना चाहिए.

6.कार्तिक पूर्णिमा के दिन किसी जानवर को न तो सताएं और न हीं उसे मारें, क्योंकि ऐसा करने से आप इस दिन पाप के भागीदार बनते हैं.
7. कार्तिक पूर्णिमा के दिन किसी भी बूढ़े-बुजु्र्ग का अपमान बिल्कुल भी न करें, क्योंकि इस दिन देवता किसी भी रूप में आपके पास आ         सकते हैं.
8.कार्तिक पूर्णिमा के दिन तुलसी के पौधे को न तो उखाडे़ं और न हीं तुलसी के पत्तों को तोड़ें.
9. कार्तिक पूर्णिमा के दिन उड़द, मसूर, करेला, बैंगन और हरी सब्जियां का प्रयोग नहीं करना चाहिए.
10. कार्तिक पूर्णिमा के दिन किसी भी देवी या देवता का बिल्कुल भी अपमान न करें. ऐसा करेंगे तो आपको उनके क्रोध का सामना करना पड़ सकता है

Also Read, ये भी पढ़े- Kartik Purnima 2018: जानिए कार्तिक पूर्णिमा पूजा-विधि, महत्व और कथा

Kartik Purnima 2018: जानें कार्तिक पूर्णिमा की तिथि, महत्व और पूजा अनुष्ठान

Kartik Purnima 2018: कार्तिक पूर्णिमा पर करें ये 5 उपाय, बनेंगे हर बिगड़े काम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App