नई दिल्ली. Kartik Purnima 2018: कार्तिक पूर्णिमा का दिन बहुत ही खास होता है. इस दिन गंगा स्नान का महत्व होता है. यश और कीर्ति की प्राप्ति वाला कार्तिक पूर्णिमा 23 दिसंबर 2018 को पड़ रहा है. कार्तिक पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है. मान्यता के अनुसार विष्णु भगवान की पूजा करने से घर में धन और यश की प्राप्ति होती है. इस दिन दीप दान का बहुत ही महत्व होता है. कार्तिक पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है.

कार्तिक पूर्णिमा पूजा-विधि- कार्तिक पूर्णिमा केदिन सुबह उठकर स्नान करें, घर के पास गंगा नदी है तो वहां स्नान करें, सुबह स्नान करने के बाद मिट्टी के दिए मे घी डालर दीपदान करें. ऐसा करना बहुत ही शुभ होता है. भगवान विष्णु की पूजा रें. पूजा करते समय इस मंत्र का जाप का करें ‘नमो स्तवन अनंताय सहस्त्र मूर्तये, सहस्त्रपादाक्षि शिरोरु बाहवे। सहस्त्र नाम्ने पुरुषाय शाश्वते, सहस्त्रकोटि युग धारिणे नम:।।’ इस दिन घर में पूजा हवन करें शाम के समय दीपदान करें

कार्तिक पूर्णिमा का महत्व- कार्तिक पूर्णिमा को त्रिपुरी पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है. मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव ने राक्षस का वध किया था. जिसकी वजह से इस त्रिपुरी पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है. क्रार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान का बहुत ही शुभ माना जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App