नई दिल्ली. हिंदुओं का पवित्र महीना, सावन, भगवान शिव के भक्तों के लिए वार्षिक तीर्थयात्राओं की शुरुआत का प्रतीक है। लाखों भक्त भगवान का आशीर्वाद लेने के लिए कांवड़ तीर्थ यात्रा पर जाते हैं। ये भक्त भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए महीने के चारों सोमवार का व्रत भी रखते हैं। इस साल सावन का पवित्र महीना 25 जुलाई 2021 से शुरू होकर 22 अगस्त 2021 को समाप्त होगा।

कांवरिया (भगवान शिव के भक्त) यात्रा के हिस्से के रूप में अपने क्षेत्रों में शिव मंदिरों में चढ़ाने के लिए गंगा नदी से पानी इकट्ठा करते हैं। उत्तराखंड में हरिद्वार, गौमुख और गंगोत्री और बिहार के सुल्तानगंज में गंगा नदी का पानी लाने के लिए श्रद्धालु आते हैं। पिछले साल कोविड-19 महामारी के कारण कांवड़ यात्रा स्थगित कर दी गई थी।

सावन मास 2021: पवित्र महीने का महत्व

पौराणिक कथाओं के अनुसार, समुद्र मंथन के दौरान भगवान शिव ने दुनिया को बचाने के लिए विष का सेवन किया था। हालाँकि, देवी पार्वती ने उनके शरीर में जहर को आगे बढ़ने से रोकने के लिए जल्दी से उनका गला पकड़ लिया। फलस्वरूप उनका कंठ नीला पड़ गया और वे नीलकंठ कहलाने लगे।

विष के सेवन के बाद, भगवान शिव का शरीर जलने लगा। इसलिए उसे जलने से राहत प्रदान करने के लिए, सभी देवी-देवताओं ने उसे जल अर्पित करना शुरू कर दिया। यहीं से शिव को जल चढ़ाने और कांवड़ यात्रा की प्रथा शुरू हुई।

कांवर यात्रा 2021

कांवड़ यात्रा भारत के पूर्वोत्तर भाग में व्यापक रूप से लोकप्रिय है। लाखों भक्त विशाल समूहों में आते हैं और पूरे मार्ग में शिव भजन नृत्य और गायन में भाग लेते हैं। ट्रैफिक पुलिस द्वारा किसी भी प्रकार की भीड़भाड़ को रोकने के लिए विशेष नियम भी बनाए गए हैं। इनके अलावा, सरकार द्वारा कई विश्राम और भोजन बिंदु भी बनाए गए हैं।

कांवर यात्रा 2021: भक्तों के लिए नियम

कुछ नियम जिनका पालन प्रत्येक भक्त को करना चाहिए:

यात्रा के दौरान सौंदर्य प्रसाधनों का कोई उपयोग नहीं।

यात्रा हमेशा समूहों में की जाती है।

शराब, प्याज और लहसुन के सेवन से बचना चाहिए।

कांवड़ धारण करने से पहले स्नान करना चाहिए।

कंवर को सिर पर या पेड़ के नीचे रखना वर्जित है।

सावन सोमवार 2021: उपवास तिथियां

सावन का पहला सोमवार: 26 जुलाई 

दूसरा सोमवार: 2 अगस्त

तीसरा सोमवार: 9 अगस्त

चौथा सोमवार: 16 अगस्त

Ashadha Gupt Navratri 2021 : गुप्त नवरात्रि आज से शुरू, जानें मां शैलपुत्री की पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, मंत्र, भोग और आरती का समय

Eid al-Adha 2021: जानिए कब है ईद-उल-अजहा? बकरीद 2021 किस दिन मनाई जाएगी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर