नई दिल्ली: चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को कामदा एकादशी कहा जाता है. इस बार ये एकादशी 15 अप्रैल यानी की आज के दिन पड़ रही है. साथ ही हिंदू संवत्सर की ये पहली एकादशी होती है. ऐसी मान्यता है कि आपकी सारे कामनाओं को पूरा करने के लिए कामदा एकादशी का व्रत किया जाता है. इसके अलावा मान्यता ये भी है कि ये व्रत प्रेत योनि से भी मुक्ति दिलता है और जो भी भक्त इस कामदा एकादशी के व्रत को करता है. साथ ही दान और विधि-विधान से पूजन करता है, उन्हें मोक्ष प्राप्त होने साथ-साथ हर पाप से मुक्ति मिल जाती है.

एकादशी का क्या है महत्व

एकादशी व्रत के बारे में पुराणों में बताया गया है कि जितना पुण्य कन्यादान, हजारों सालों की तपस्या करने से मिलता है. उससे भी कई ज्यादा पुण्य एकमात्र कामदा एकादशी व्रत करने से मिलता है. साथ बी बताया जाता है कि अग भक्त अपने सच्चे मन से इस व्रत करता है उसे बैकुंठ धाम की प्राप्ती होती है. इसके अलावा जो भी भक्त इस व्रत को वीधि-विधान से करता है उसके सभी पाप नष्ट हो जाते हैं और वो सिधा स्वर्गलोक को प्राप्त करता है.

एकादशी व्रत का शुभ मुहूर्त

इस बार कामदा एकादशी व्रत 15 अप्रैल को पड़ रहा है. वहीं व्रत का पारण 16 अप्रैल को सूर्योदय के बाद होगा. इसके साथ ही पारण के दिन द्वादशी सूर्योदय से पहले समाप्त हो जाएगी. 

एकादशी व्रत करने की विधि

कामदा एकादशी के दिन बड़ा ही खास माना जाता है इस दिन सभी भक्त मां गंगा में डुबकी लगाकर भगवान विष्‍णु की विधि-विधान से पूजन करते हैं और अगर घर के आसपास मां गंगा नहीं है तो आप घर में ही अपने नहाने के पानी में थोड़ा गंगा जल मिला कर नहा सकते हैं. साथ ही स्‍नान करने के बाद भगवान विष्‍णु का ध्‍यान करें और उन्‍हें फल, फूल, दूध, पंचामृत और तिल चढ़ाएं.

इसके बाद आप सत्‍य नारायण की क‍था पढ़ें. कामदा एकादशी के दिन अन्न का एक दाना भी ग्रहण नहीं किया जाता. उस दिन फल खा कर और मीठा शरबत पी अपनी भूख को रोक सकते हैं. वहीं अगले दिन स्‍नान करके ब्राह्मण को भोजन कराने और दान देने के बाद ही व्रत का पारण करें. ऐसा करने से आपके जीवन में खुशहाली आएगी और अपके सभी पापों का नाश होगा और मोक्ष प्राप्ती होगी.

Lord Shiva Monday Tips: सोमवार के इन टोटकों से खुलेगी किस्मत, शिव जी की कृपा से बरसेगा धन

Horoscope Today Monday 15 April 2019 In Hindi: वृषभ राशि के कारोबारियों को होगा बंपर धन लाभ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App