नई दिल्ली. एक बाजार में एक ही वस्तु की कई दुकानें होती हैं. परंतु उनमें एक या दो ही बहुत ज्यादा चलती हैं. अधिकांश दुाकाने सामान्य रूप से चलती है तो कोई हाथ पर हाथ रखकर ही बैठा रहता है. ऐसा होनी की वजह भाग्य का फेर भी माना जाता तो काफी लोग इसे समय की मार कहते हैं. इन परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए कई असरदार टोटके और उपायों के बारे में बताया गया है. ये समय इन्हीं टोटकों का है जो सफल व्यापारी ने तो अपनाएं लेकिन असफल होने वालों ने एक बार भी इसकी ओर ध्यान तक नहीं दिया.

कारोबार में वृद्धि कारक मंत्र
अगर आपको कारोबार ठीक ढंग से नहीं चल रहा हो और उसमें बाधाएं आ रही हों या आपके व्यापार को किसी दुश्मन ने बांध दिया हो, या उन पर कोई तांत्रिक प्रयोग कर दिया हो अथवा दुकान पर ग्राहक नहीं आ रहे हों और आपकी आमदनी बहुत कम हो गई हो तो आने वाली होली की रात ये प्रयोग किया जाता है. इसके लिए आप अपने सामने एक हाथ लंबा सूती लाल कपड़ा बिछा लें, इस पर काले तिल की ढेरी बना दें और उस पर एक दीपक जला दें.

इस दीये में किसी भी प्रकार का तेल भरा जा सकता है. फिर इस दीपक के सामने सात लौंग, सात इलायची तथा सात मिर्च रख दें. अब दीपक के तेल में एक सियार सिंगी डाल दें जो कि तेल में डूबी हुई रहे. इसके बाद साधक इस दीपक के सामने हाथ जोड़कर प्रार्थना करे कि अगर किसी ने मेरा कारोबार बांध दिया हो तो वह दूर हो जाए. और मेरा व्यापार दिन दूना रात चौगुना फैले. इसके बाद साधक वहीं पर बैठकर नीचे लिखे मंत्र का जाप करे.

ओम हनुमंत वीर, रखो हद थीर, करो यह काम, वैपार बढ़े, तंतर दूर हो, टण्टा टूटे। ग्राहक बढ़े, कारज सिद्ध होय, न होय तो अंजनी की दुहाई।

जब एक घंटे मंत्र का जाप हो जाए तो दीया बुझा दें और दीपक, सियार, सिंगी, तेल और अन्य वस्तुओं के साथ पोटली में बांध दें. उस पोटली को सड़क के उस स्थान पर रख दें, जहां पर दो सड़के आकर मिलती हैं. यह पोटली रखने के बाद वापिस अपने घर पर लौट आएं और हाथ पैरों को धोलें. ऐसा करने से कारोबार संबंधित दोष दूर होता है और दूसरे दिन से ही कारोबार में सफलता मिलनी शुरू हो जाती है.

How to Make Money: 2019 की शुरूआत में करें ये चमत्कारी टोटके, साल भर धनकुबेर आपकी तिजोरी में रहेंगे बंद

Kismat Chamkane ke Upay: रूठी किस्मत को जगाने में असरदार हैं ये उपाय, दूर होंगे संकट, छप्पड़ फाड़ कर बरसेगा धन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App