नई दिल्ली. होली का त्योहार 9-10 मार्च को धूमधाम से मनाया जाएगा. होली के पर्व से पहले आठ दिनों को होलाष्टक कहा जाता है. होलाष्टक की शुरुआत हर साल फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि से पूर्णिमा तक होता है. इस साल होलाष्टक 3 मार्च से 9 मार्च होलिका दहन तक रहेगा.

होलाष्टक के 8 दिनों की अवधि में किसी भी तरह के शुभ और मांगलिक कार्य जैसे शादी, मुंडन, गृह प्रवेश आदि की मनाही बताई गई है. हालांकि, होलाष्टक अवधि के दौरान आप कुछ ऐसे उपाय जरूर कर सकते हैं जिससे आपको संतान की प्राप्ति, धन संपत्ति में बढ़ोतरी, नौकरी में तरक्की मिलेगी.

पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक, होलाष्टक समय के दौरान भक्त प्रह्लाद को उसके क्रूर पिता हिरणकश्यप ने कई तरह की यातनाएं दी थीं. इसी वजह से ये आठ दिनों का समय हिंदू धर्म में काफी ज्यादा नकारात्मकता वाला माना जाता है और सभी तरह के शुभ मांगलिक कार्य वर्जित माने जाते हैं.

होलाष्टक के जरूरी उपाय

1. संतान की प्राप्ति के लिए होलाष्टक में लड्डू गोपाल की पूजा विधि अनुसार करनी चाहिए. पूजा के दौरान शुद्ध घी और मिश्री से हवन करना चाहिए.

2. करियर में तरक्की के लिए आप होलाष्टक समय में जौ, तिल और शक्कर से हवन कराएं. धन संपत्ति में बढ़ोतरी के लिए होलाष्टक में आपको कनेर, फूल, गांठ वाली हल्दी, पीली सरसों और गुड़ से हवन कराएं.

3. आरोग्य के लिए असाध्य रोग से मुक्ति पाने के लिए होलाष्टक में शिव भगवान का महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना उत्तम माना गया है. इसके बाद गुग्गल से हवन कराना जरूरी है.

Holi Ke Totke: होली के इन टोटकों से खुल जाएगी किस्मत, आर्थिक तंगी होगी दूर, चल जाएगा ठप्प कारोबार

Holi 2020: होली के पावन त्योहार पर क्या करें और क्या न करें, जानिए नियम

https://youtube.com/watch?v=PrLOIP-WtAw

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App