नई दिल्ली. हिंदू धर्म में सप्ताह के हर एक दिन किसी न किसी भगवान का पूजन होता है जिनका विशेष महत्व भी बताया गया है. सोमवार को शिव जी, बुधवार को गणेश जी, गुरुवार को विष्णु जी, शुक्रवार को मां लक्ष्मी, शनिवार को शनि देव, रविवार को सूर्य देव और मंगलवार को भगवान हनुमान जी की पूजा का मंगलवार को विधान बताया गया है. इस दिन लोग बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए व्रत भी करते हैं. मान्यता है कि हनुमान जी की कृपा बरसते ही व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा कि आखिर मंगलवार को ही हनुमान जी की पूजा क्यों की जाती है? और क्या है मंगलवार की पूजा का महत्व.

मंगलवार को क्यों होती है बजरंगबली की पूजा

धार्मिक मान्यता के मुताबिक, भगवान हनुमान का जन्म मंगलवार के दिन हुआ था. हनुमान जी को मंगल ग्रह का नियंत्रक भी कहा गया है. हनुमान जी की पूजा अर्चना से व्यक्ति के सभी संकट दूर हो जाते हैं. साथ ही जो भक्त सच्चे मन से पाठ करता है वो हर किसी आपदा से सुरक्षित हो जाता है. मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करने से साहस आत्मविश्वास और शक्ति का वरदान प्राप्त होता है. साथ ही मंगलवार के दिन व्रत और 100 दफा हनुमान चालिसा का पाठ करने से व्यक्ति को सिर पर चढ़ रहे कर्जे से मुक्ति प्राप्त होती है.

मंगलवार को हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए उनपर सिंदूर अर्पित करें. मान्यता है कि सिंदूर अर्पण के बाद व्यक्ति किसी दुर्घटना से सुरक्षित और कर्जे से मुक्ति भी मिलती है. हनुमान जी को चमेली का भी काफी प्रिय बताया जाता है. कहा जाता है कि चमेली के तेल को अर्पित करने से मन एकाग्र होता है और व्यक्ति के आंखों की रौशनी भी बढ़ती है.

Lord Hanuman Tuesday Remedies: सात मंगलवार करें हनुमान जी के ये असरदार उपाय, हर काम में मिलेगी सफलता

Balaram Jayanti 2019 Date on 21 August: बुधवार 21 अगस्त को मनाई जाएगी बलराम जयंती 2019, जानिए महत्व और पूजा तिथि

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App