नई दिल्ली. चंद्र ग्रहण 2019 के बीच देश भर में 16 जुलाई मंगलवार को गुरु पूर्णिमा का त्योहार मनाया जाएगा. गुरु पूर्णिमा के दिन आषाढ़ नक्षत्र महायोग है. गुरु पूर्णिमा के दिन पड़ने वाले महायोग से आपके जीवन के कई रोग दूर होंगे. धनु और मकर राशि के लोगों को इस दिन खास ध्यान रखना होगा. धनु और मकर राशि के लोग गुरु पूर्णिमा के दिन उपाय करेंगे तो उनके जीवन के कष्ट दूर होंगे और उन्हें सुख-शांति मिलेगी. साथ ही गुरु पूर्णिमा के दिन यदि नीचे दी गई पूजा विधि के अनुसार जाप करेंगे तो आपको समृद्धि मिलेगी. मान्यता है कि आषाढ़ मास की पूर्णिमा को गुरुदेन की कृपा बरसेगी.

यह महापूर्णिमा इस बार पूर्वा अषाढ़ नक्षत्र, मित्र के महायोग में मकर और धनु की संधि राशि में आ रही है. गुरु पूर्णिमा के दिन पड़ रहे इस महायोग व्यक्ति को मंत्रों की सिद्धि प्राप्त होती है. इसी वजह से ऋषि-मुनीओं ने आषाढ़ महीने की गुरु पूर्णिमा को प्रतिवर्ष आने वाली 12 गुरू पूर्णिमाओं में से सबसे खास बताया है. कहा जाता है कि गुरु पूर्णिमा के दिन मन-कर्म, निष्ठा भाव से सेवा करने वाले शिष्यों की सभी परेशानियां आसानी से दूर हो जाती हैं. ज्योतिष्य अनुसार, श्रीमदभागवत, ब्रह्मसूत्र, महाभारत जैसे पुराणों की रचना करने वाले महर्षि वेदव्यास जी का जन्म अषाढ़ की पूर्णिमा को हुआ था. इसी वजह से हर साल गुरुओं का पूजन आषाढ़ मास के इसी दिन होता है.

बताया जा रहा है कि मंगलवार रात 1:30 बजे से चंद्रग्रहण लगना शुरू होगा और इस दिन चंद्रग्रहण का होना खास संयोग हैं. चंद्रग्रहण 16-17 जुलाई मध्यरात्रि रात 1:30 बजे से शुरू होकर सुबह 4:30 बजे तक रहेगा. चंद्र ग्रहण से पहले ही शाम 5 बजे से सूतक लग जाएगा. चंद्र ग्रहण नक्षत्र धनु राशि से प्रारम्भ होगा और इसका समापन मकर राशि में जाकर होगा.

चन्द्रग्रहण में इस विधि से करें गुरु की पूजा
इस दिन सबसे पहले सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और साफ-सुथरे वस्त्र धारण कर अच्छे मन से व्यास जी की तस्वीर पर माला चढ़ाकर पूजा करें. जिसके बाद अपने गुरु के पास जाकर आशीर्वाद लें. उन्हें साफ आसन पर बैठाकर माला एवं वस्त्र अर्पण करना करें और आशीर्वाद लें. इस पूर्णिमा में यह खास बात है कि इस दिन गुरुजनों की सेवा करने का लाभ मिलता है. माता-पिता को भी गुरु समान समझ कर उनकी दिन सेवा करना चाहिए.

इन राशियों का रखें खास ध्यान
गुरु पूर्णिमा के दौरान कुछ राशियों को विशेष ध्यान देने की जरूरत है. धनु, मकर, वृश्चिक, कन्या, मिथुन, सिंह और मकर राशि के लिए यह पूर्णिमा कल्याणकारी नहीं है. घर की शांति के लिए सफेद वस्त्र पहने और हाथ में पांच या सात मुट्ठी चावल, चीनी सफेद कपड़े में बांध लें इसके बाद कपड़े में चावल और चीनी को सर से सात बार उतार कर संभाल कर रख लें.

Chandra Grahan 2019: चंद्र ग्रहण के दौरान खाने-पीने से बचें, भोजन करने पर भुगतने पड़ सकते हैं गंभीर परिणाम, इन बातों का रखें खास ध्यान

Chandra Grahan 2019 LIVE Stream: कब कहां और कैसे देखें चंद्र ग्रहण 2019 की लाइव स्ट्रीमिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App