वड़ोदरा. गुजरात के वड़ोदरा स्थित स्वामीनारायण मंदिर का हिंडोला चर्चाओं में है. एक महीने तक चलने वाले हिंडोला कार्यक्रम में सोमवार को स्वामीनारायण भगवान का हिंडोला करेंसी नोटों से सजाया गया है. इस हिंडोले में 18 लाख रुपये लगे हुए हैं. हिंडोला उत्सव शाम को होता है. बताया जाता है कि शाम को गोपियां भगवान के साथ झूला झूलती हैं इसीलिए प्रतीकात्मक रुप में भगवान के लिए हिंडोला तैयार किया जाता है. यह स्वामीनारायण मंदिर का विशेष कार्यक्रम होता है.

मंदिर में पुष्टिमार्गीय परंपरा के अनुसार एक महीने तक हिंडोला उत्सव मनाया जाता है. इस दौरान कलाकार विभिन्न प्रकार के हिंडोले तैयार करते हैं. इस बार यह उत्सव 29 मई से शुरु हुआ है जो 28 अगस्त तक चलेगा. सोमवार का हिंडोला नोटों से सजाया गया था. इन हिंडोलों में बद्रिकाश्रमपति श्री नरनाराय़ण देव, कैलाश्वासी महादेव, बैकुंठ निवासी श्री लक्ष्मीनारायण देव, गौ लोकवासी राधाकृष्णदेव, सीता राम, श्री स्वामिनारायण प्रभु आदि के दर्शन किए जाते हैं.

यह पहला मौका नहीं है जब भगवान का हिंडोला भारतीय करेंसी से सजाया गया हो. इससे पहले भी कई मौकों पर भगवान के श्रंगार में नोटों का प्रयोग किया जाता रहा है. मंदिरों में सिर्फ नोट ही नहीं बल्कि भगवान की मूर्तियों पर सोने की परत भी चढ़ाई जाती है. देश में अनेकों मंदिर हैं जहां भगवान के पूजन की अलग-अलग विधियां प्रचलित हैं. स्वामीनारायण मंदिर भी सावन में हिंडोले को लेकर चर्चाओं में रहता है. महीनेभर मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है. इस दौरान दूर-दूर से लोग भगवान का हिंडोला देखने के लिए स्वामीनारायण मंदिर आते हैं. 

फैमिली गुरु: सावन से जन्माष्टमी तक जपें राशि के अनुसार ये अचूक कृष्ण मंत्र, होंगे ये लाभ

फैमिली गुरु: सावन में एक मुट्ठी दान से बन सकते हैं करोड़पति

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App