Monday, December 5, 2022

Navratri Ashtami tithi: इस दिन है दुर्गा अष्टमी, इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा

नई दिल्ली. नवरात्र हिन्दुओं का विशेष पर्व है, इस पावन अवसर पर मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-आराधना की जाती है. इसलिए यह पर्व नौ दिनों तक मनाया जाता है, वेद-पुराणों में मां दुर्गा को शक्ति का रूप माना गया है जो पाप का नाश करती हैं, नवरात्र के समय मां के भक्त उनसे अपने सुखी जीवन और समृद्धि की कामना करते हैं. नवरात्र एक साल में चार बार मनाई जाती है, नवरात्रि में कई जगहों पर मेलों का भी आयोजन किया जाता है.

नवरात्रि के दौरान मां के भक्त भारत वर्ष में फैले मां के शक्ति पीठों के दर्शन करने जाते हैं, इसे शारदीय नवरात्री भी कहते हैं. हिंदू पंचांग के अनुसार, नवरात्रि अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनायी जाती है, इस बार नवरात्रि का महापर्व 5 अक्टूबर, बुधवार तक देश भर में मनाया जाएगा. फिर दसवें दिन दुर्गा मां की प्रतिमा का विसर्जन कर दिया जाता है.

इस बार नवरात्रि पूरे नौ दिन की होगी, इन नौ दिनों तक माँ दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा होगी.

26 सितंबर – मां शैलपुत्री की पूजा (एकादशी)
27 सितंबर – मां ब्रह्मचारिणी की पूजा (द्वादशी)
28 सितंबर – मां चंद्रघंटा की पूजा (तृतीया)
29 सितंबर- मां कुष्मांडा की पूजा (चतुर्थी)
30 सितंबर- मां स्कंदमाता की पूजा (पंचमी)
01 अक्टूबर- मां कात्यायनी की पूजा (षष्टी)
02 अक्टूबर- मां कालरात्रि की पूजा (सप्तमी)
03 अक्टूबर- मां महागौरी की पूजा (अष्टमी)
04 अक्टूबर- मां सिद्धिदात्री की पूजा (नवमी)
05 अक्टूबर- विजयादशमी या दशहरा

शुभ मुहूर्त

अष्टमी तिथि का शुभ मुहूर्त 03 अक्टूबर सायं 4 बजकर 39 मिनट तक रहेगा. इस दिन बहुत से लोग हवन अपने व्रत का पारण करते हैं. तो कहीं-कहीं इस दिन माँ दुर्गा को पंडाल में अंजलि देने की भी मान्यता है, कुछ जगह ये नवमी को भी किया जाता है.

 

Congress President Election: कांग्रेस में अब खड़गे VS थरूर, किसके साथ गांधी परिवार?

शशि थरूर ने किया कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल

Latest news