नई दिल्ली. दिवाली यानी दीपोत्सव का पहला दिन धनतेरस होता है. आज देशभर में धनतेरस का पर्व मनाया जा रहा है. सालभर का ये त्यौहार हर हिंदू परिवार के लिए काफी महत्व से भरा होता है. इस दिन धन्वंतरि की पूजा व खरीदारी का विशेष महत्व होता है. इंटरनेट पर खूब सर्च किया जा रहा है कि धनतेरस पूजा व खरीदारी का शुभ मुहूर्त क्या व कितने बजे से हैं.

त्यौहारों की खूब धूम इस धनतेरस आपको देखने को मिलेगी. शुक्रवार सुबह से ही श्रद्धालुओं ने मुहूर्त व अपनी राशि के अनुरुप खरीदारी करना शुरू कर दिया है. कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाई जाने वाली धनतेरस पर्व घर में समृद्धि और धन लेकर आता है. इस दिन धन कुबैर की पूजा व मंत्रों को उच्चारित किया जाता है.

धनतेरस शुभ मुहूर्त व खरीदारी का शुभ समय
ज्योतिषाचार्यों के अनुसार शुक्रवार यानी धनतेरस को त्रयोदशी शाम 6:38 बजे लग रही है. इसके बाद से धनतेरस की शुरुआत हो जाएगी. 25 अक्तूबर यानी आज सुबह 9:23 बजे के बाद पूरे दिन वैधृति योग रहेगा. यह योग मांगलिक कार्यों के लिए काफी शुभ रहता है. इस बीच आप कोई भी शुभ कार्य व खरीदारी कर सकते हो. वहीं शाम में 5.40 के बाद भी खरीदारी करना शुभ साबित होगा. कहा जाता है कि धनतेरस के दिन धातु खरीदना काफी शुभ रहता है.

धनवंतरी पूजन की क्या है विधि और मुहूर्त
धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतरि की पूजा करने का चलन है. इस दिन धन्वंतरि भगवान की शुभ मुहूर्त में विधिवत रूप से पूजा की जाती है और इनके आशीर्वाद से सालभर घर में सुख शांति बनी रहती है व धन से जुड़ी कोई दिक्कत नहीं होती. धनतेरस पर धन्वंतरि भगवान की पूजा करने का शुभ मुहूर्त समय शाम 7 बजकर 08 मिनट से रात्रि 8 बजकर 13 मिनट तक रहेगा. इस बीच श्रद्धालु विधि विधान पूर्वक पूजा करें.

धनवंतरी भगवान को धनिया के बीच काफी पसंद है. उनकी पूजा में इनका जरूर उपयोग करें. साथ ही उन्हें फूल, धूप, फल अर्पित करें. साथ ही धनवंतरी मंत्रों का उच्चारण करें. आरती व कथा करें. आज जो भी खरीदारी आपने की है उसे पूजा स्थल में शामिल करें.

Diwali 2019: दीवाली पर ये सावधानियां बरतकर आप खुद को और अपनी फैमिली को एयर पॉल्यूशन से बचा सकते हैं, जानें क्या करें और क्या न करें

Happy Diwali 2019 Advance: दिवाली 2019 फेसबुक, व्हाट्सएप GIF मैसेज भेज कर एडवांस में कहे हैपी दिवाली

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर