Dhan Prapti Ke Upay: जीवन में प्रत्येक व्यक्ति को अपने सभी कार्यों के लिए धन की आवश्यकता होती हैं. लेकिन कई बार व्यक्ति बहुत मेहनत करने के बाद भी अपनी आवश्कता के अनुसार धन अर्जित नहीं कर पाता है. और जीवन में अनेक दुख और तकलीफों को झेलता है. जिससे उस व्यक्ति का जीवन ही दयनीय हो जाता है. चूंकि धन जीवन में सभी लोगों की आवश्यकताओं की पूर्ति करने का माध्यम होता है. धनहीन व्यक्ति को ना तो समाज में सम्मान की प्राप्ति होती है और ना ही भौतिक सुखों की उसे प्राप्ति होती है.

काले रंग के 11 कंबल दान करने से सभी परेशानियां खत्म हो जाती है इन उपायों से सभी परेशानियां एक वर्ष में समाप्त होना शुरू हो जाती हैं.

धन वृद्धि के लिए लाल कपड़े में मोती शंख बांधकर तिजोरी में रखें. इससे घर में बरकत होगी धन की वृद्धि होगी.

कुछ नोटों पर चंदन का इत्र लगाकर तिजोरी में रखें बरकत के रूप में घर में धन की कमी कभी नहीं रहेगी.

रात में एक गिलास दूध चढ़ाने रखें सुबह उठकर उसे बबूल के वृक्ष में डाल दें, आर्थिक स्थिति में सुधार होने लग जाएगा. क्या कार्य कम से कम चार 41 दिन अवश्य करें.

एकाक्षी नारियल पूजा करके सिद्ध कराकर लाल वस्त्र में लपेटकर लक्ष्मी स्वरूप मानकर व्यापार स्थल के तिजोरी में रख दें धन आने में रुकावट दूर होगी.

सात मोर पंख लेकर उसमें गुलाब का इत्र लगाकर रेशमी वस्त्र में बांधकर तिजोरी का धन रखने के स्थान पर रख दें बरकत होनी प्रारंभ हो जाएगी.

घर में जो झाड़ू लगाते हैं उसमें काला धागा बांधकर झाड़ू लगाने के बाद छुपा के रख दे मां लक्ष्मी की कृपा आनी प्रारंभ हो जाएगी. घर में धन की कमी नहीं रहेगी.

सुबह ब्रह्म मुहूर्त में तीन झाड़ू चुपचाप किसी भी मंदिर में रख कर चले जाएं पीछे मुड़कर ना देखें.

व्यापार में घाटा बना धीरे-धीरे बंद हो जाएगा.

व्यापार स्थल में शुद्ध स्फटिक यास पारद का श्री यंत्र स्थापित करें प्रतिदिन धूप दीप नैवेद्य से पूजा करें.

व्यापार स्थल पर किसी ब्राह्मण द्वारा गोपाल सहस्रनाम स्तोत्र का पाठ नित्य करवाने से व्यापार में बरकत होती है. इससे धन-धान्य की स्थिति मजबूत होती है व्यापार वृद्धि की ओर बढ़ता है व्यापार में लाभ होता है.

शनिवार या मंगलवार को पीपल के 12 पत्ते तोड़ना सभी में सीताराम लिखें 11 पत्ते की माला बनाएं और एक पत्ते में सफेद बर्फी का भोग हनुमान जी को लगाएं एवं माला हनुमान जी को पहनाकर 7 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें. सभी मनोकामनाएं पूर्ण होना प्रारंभ हो जाएंगी. धन की कमी दूर होना प्रारंभ हो जाएगी.

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए बिल्ली के नाल शुभ मुहूर्त में शुद्ध करवा कर अपने पास रखें धन-धान्य की कमी नहीं रहेगी.

Shani Dev Upay: शनि देव के बुरे प्रभाव से बचना है तो करें ये 5 उपाय, बदल जाएगी किस्मत

Chhath Puja 2020: इस दिन होगी नहाय खाय की पूजा 2020, जानें शुभ मुहूर्त, विधि और महत्व