Chhath Puja 2020: नवरात्र, दुर्गा पूजा और दीपावली के साथ-साथ छठ पूजा हिंदुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक हैं. बता दें कि छठ पूजा का त्योहार 4 दिनों में संपन्न होता है. हर दिन का एक अलग महत्व है. हर दिन अलग-अलग पूजा की जाती है. इस आर्टिकल में हम आपको छठ पूजा के पहले दिन यानी नहाय खाय के बारे में बताने वाले हैं. नहाय खाय की पूजा के साथ ही छठ पूजा की शुरुआत होती है. नहाय खाय के दिन की छूट पूजा में एक विशेष महत्व है. इस वर्ष नहाय खाय की पूजा 18 नवंबर 2020 को की जाएगी.

जानें क्या होती है नहाय खाय की पूजा

छठ पर्व का पहला दिन जिसे नहाय खाय के नाम से जाना जाता है. नहाय खाय की शुरुआत कार्तिक शुक्ल चतुर्थी को होगी. इस दिन सबसे पहले घर की सफाई कर उसे पवित्र किया जाता है. घर की साफ-सफाई करने के बाद व्रती अपने नजदीक में स्थिति गंगा नदी, गंगा की सहायक नदी या तालाब में जाकर स्नान करते हैं. व्रती इस दिन नाखून वगैरह को अच्छी तरह काटकर, स्वच्छ जल से अच्छी तरह बालों को धोते हुए स्नान से करते हैं.

बता दें कि व्रती इस दिन लौटते समय वो अपने साथ गंगाजल लेकर आते हैं जिसका उपयोग वे खाना बनाने में करते हैं. वे अपने घर के आसपास को साफ सुथरा रखते है. व्रती इस दिन सिर्फ एक ही बार खाना खाते हैं. खाने में व्रती कद्दू की सब्जी, मूंग चना दाल, चावल का सेवन करते हैं. तली हुई पूरियों, पराठों और सब्जियों को इस दिन खाना वर्जित है. यह खाना कांसे या मिट्टी के बर्तन में पकाया जाता है. खाना पकाने के लिए आम की लकड़ी और चूल्हे का इस्तेमाल किया जाता है. खाना बन जाने के बाद व्रती को सबसे पहले खाना खाना होता है उसके बाद परिवार के अन्य सदस्य खाना खाते हैं.

कब मनाया जाता है छठ पूजा का पर्व

सूर्य देव की आराधना का यह पर्व साल में दो बार मनाया जाता है. चैत्र शुक्ल षष्ठी व कार्तिक शुक्ल षष्ठी इन दो तिथियों को यह पर्व मनाया जाता है. हालांकि कार्तिक शुक्ल षष्ठी को मनाये जाने वाला छठ पर्व मुख्य माना जाता है. कार्तिक छठ पूजा का विशेष महत्व माना जाता है. चार दिनों तक चलने वाले इस पर्व को छठ पूजा, डाला छठ, छठी माई, छठ, छठ माई पूजा, सूर्य षष्ठी पूजा आदि कई नामों से जाना जाता है.

इन राज्यों में मनाया जाता है छठ पूजा का पर्व

छठ पूजा का त्योहार भारत के अलग-अलग हिस्सों में धूमधाम से मनाया जाता है. छठ पूजा का त्योहार उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, दिल्ली और राजस्थान में धूमधाम से मनाया जाता है. इसके साथ ही इन राज्यों के लोग देश के जिन-जिन हिस्सों और विदेश में रहते हैं वहां भी छठ का त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है.

जानें छठ पूजा 2020 शुभ मुहूर्त

इस वर्ष छठ पूजा का त्योहार 20 नवंबर 2020 को मनाया जाएगा.

छठ पूजा के दिन सूर्योदय- 6 बजकर 48 मिनट

छठ पूजा के दिन सूर्यास्त- 5 बजकर 26 मिनट

षष्ठी तिथि का आरंभ 19 नवंबर 2020 को रात 9 बजकर 58 मिनट से होगा.

षष्ठी तिथि की समाप्ति 20 नवंबर 2020 को रात 9 बजकर 29 मिनट पर होगी.

Ravivar Upay: रविवार के दिन करें ये उपाय, सूर्य देवता के आशीर्वाद से जीवन में आएंगी खुशियां

Vastu Shastra Tips: आज ही घर से हटाए ये 5 चीजें, बीमारियां होंगी दूर, जानें वास्तु शास्त्र का महत्व

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर