नई दिल्ली/ चैत्र नवरात्रि को आने में अब कुछ ही समय शेष है. नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूपों की नौ दिन पूजा-अर्चना की जाती है. मां दुर्गा की असीम कृपा पाने के लिए भक्त नौ दिन तक उपवास भी रखते हैं. यूं तो साल में चार नवरात्रि आते हैं. चैत्र और शारदीय नवरात्रि के अलावा दो गुप्त नवरात्रि माघ और आषाढ़ नवरात्रि भी आते हैं. हिन्दू पंचांग के अनुसार चैत्र की नवरात्रि शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से शुरू होती है. इस साल चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल 2021 को शुरू हो रही है और 9 दिन तक चलेगी यानी 22 अप्रैल 2021 को इसका समापन होगा.

इस साल चैत्र नवरात्रि के प्रतिपदा यानी पहले दिन कई शुभ योग बन रहे हैं. नवरात्रि के पहले दिन विष्कुंभ व प्रीति योग बनने से इसका महत्व और बढ़ रहा है. ज्योतिष शास्त्र में इन योगों को बेहद शुभ माना जाता है. इस योग में घटस्थापना करने और विधि पूर्वक पूजा करने से मां दुर्गा भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरा करती हैं.

जानिए घटस्थापना का मुहूर्त—

दिन- मंगलवार

तिथि- 13 अप्रैल 2021

शुभ मुहूर्त- सुबह 05 बजकर 28 मिनट से सुबह 10 बजकर 14 मिनट तक

अवधि- 04 घंटे 15 मिनट

जानिए शुभ योग –

विष्कुम्भ योग – 12 अप्रैल की दोपहर 02 बजकर 27 मिनट से 13 अप्रैल की दोपहर 03 बजकर 16 मिनट तक

प्रीति योग- 13 अप्रैल की दोपहर 03 बजकर 16 मिनट से 14 अप्रैल की शाम 04 बजकर 15 मिनट तक

Chaitra Navratri 2021: जानिए नवरात्र के नौ दिन किस देवी की होती है पूजा, कौन-कौन से नियमों का पालन करना है अनिवार्य

Haridwar Kumbh Mela 2021: कुंभकाल में सिर्फ गंगाजल के स्पर्श से मिलता है करोड़ों पुण्यों का फल, गंगा बन जाती है महाभद्रा