नई दिल्ली. Chaitra Navratri 2019 3rd Day Puja: चैत्र नवरात्र हिंदू धर्म के सबसे महत्वपूर्ण पर्वों में एक हैं. इन नवरात्रों में मां भगवती (दुर्गा) के नौ स्वरुपों की आराधना की जाती है. ऐसे में चैत्र नवरात्र के तीसरे दिन माता चंद्रघंटा के रुप की पूजा-अर्चना की जाती है. मां चंद्रघंटा के मस्तक पर घंटे का आकार का चंद्रमा अलंकृत है, इसलिए इन्हें माता चंद्रघंटा के नाम से जाना जाता है. मां चंद्राघंटा देवी माता पार्वती के सुहागिन रुप से भी प्रचलित हैं. ऐसा माना जाता है कि नवरात्र के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की विधि-विधान से पूजा करने से इंसान के जीवन में से अंहकार रुपी अंधकार नंष्ट होकर जीवन में शांति और समृद्धि की प्राप्ती होती है. दस भुजाधारी मां चंद्राघंटा के हाथों में तलवार, त्रिशूल, गदा, चमेली का फूल, धनुष. भाला, सहित कई अस्त्र-शस्त्र सुशोभित हैं. मां चंद्रघंटा की सवारी सिंह (शेर) है.

मां चंद्रघंटा पूजा विधि
नवरात्र के तृतीय दिन मां चंद्रघंटा को खुश करने के लिए उनकी पूजा विधि के अनुसार लाल कपड़े पहन कर करनी चाहिए. मां की चौकी पर माता चंद्रघंटा की प्रतिमा को को पूर्ण क्रिया विधि के तहत स्थापित करें को लाल पुष्प, लाल चुनरी और रोली, फल, चंदन को अर्पित करना उचित माना गया है. माता को चमेली के फूल भी चढाएं, पुराणों के अनुसार चमेली का फूल मां चंद्रघंटा के पसंदीदा फूलों में से एक है. फिर माता चंद्रघंटा की सम्पूर्ण ध्यान से पूजा-अर्चना करें और उनकी आरती गाए. ऐसा करने मां की दया-दृष्टि आप और आपके परिवार पर बनी रहेगी.

नवरात्र के तीसरे दिन इस मंत्र का करें जाप
माता चंद्राघंटा की पूजा करने के साथ-साथ ध्यानपूर्वक इस मंत्र
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता!
प्रसादं तनुते महा्ं चंद्रघण्टेति विश्रुता!! का शक्त्युनुसार जप करें.

चैत्र नवरात्र 2019 घटस्थापना समय और शुभ मुहूर्त:
घटस्थापना मुहूर्त- 06:32 सुबह से 10:38 सुबह
समय अवधि- 4 घंटे 5 मिनट

घटस्थापना मुहूर्त प्रतिपदा तिथि और वैधृति योग में पड़ेगा.
प्रतिपदा तिथि की शुरुआत- 5 अप्रैल 2019 को दोपहर 14:20 बजे से
प्रतिपदा तिथि खत्म- 6 अप्रैल 2019 को दोपहर 15:23 बजे तक

वहीं गौर करें चैत्र नवरात्र के तीसरे दिन की महत्वता के बारे में तो मान्यता कुछ प्रकार है कि इस दिन जो कोई भी मां चंद्रघंटा का व्रत रखता है और पूर्ण संकल्प के माध्यम से उनकी आराधना करता है, उनको जीवन के हर क्षेत्र में कामयाबी हासिल होती है. साथ ही जीवन खुशियों से भरा रहता है. इसके अलावा मां चंद्रघंटा की कृपा नित दिन उन पर और उनके परिवार पर बरसती रहती है.

Chaitra Navratri 2019 Color: नवरात्रों के नौ दिन पहने ये नौ रंग, मां दुर्गा करेंगी हर मनोकामना पूरी

Chaitra Navratri 2019: 6 अप्रैल से चैत्र नवरात्रि शुरू, गलती से भी ना करें ये काम, रहें सावधान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App