नई दिल्ली. Buddha Purnima 2019: देशभर में 18 मई यानी शनिवार को महात्मा बुद्ध की जयंती बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है. अपने उच्च उपदेशों की बदौलत भगवान बुद्ध पूजा-अर्चना की जाती है. बौद्ध धर्म के अलावा हिंदू धर्म में महात्मा बुद्ध की काफी मान्यता है. भगवान बद्ध के शांति उपदेशों को लोग आज भी अपने जीवन में अहम स्थाम देते हैं. बुद्ध पूर्णिमा को वैशाख पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है. शास्त्रों के अनुसार इस दिन महात्मा बुद्ध की आराधना के साथ हिंदू धर्म में लोग भगवान शिव, विष्णु और हनुमान जी की पूजा करते हैं. बुद्ध पूर्णिमा बौद्ध धर्म और हिंदू धर्म के सबसे महत्वपूर्ण पर्वों में शामिल हैं. इस बीच कहा जाता है कि बुद्ध पूर्णिमा के खास अवसर पर दान पुण्य करने से इंसान के जीवन में से सभी कष्ट दूर होकर, उनको लाभ और हर क्षेत्र में तरक्की की प्राप्ति होती.

इसके साथ ही बुद्ध पूर्णिमा पर गंगा नदी में स्नान करने से आपकी किस्मत चमक उठेगी. बुद्ध पूर्णिमा के दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था. इस आधार पर आज के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करने से आपके जीवन में सुख समृद्दि बनी रहेगी और नितदिन आप पर धन की वर्षा होती रहेगी. गौरतलब है हिंदू धर्म के अनुसार स्वामी बुद्ध को भगवान विष्णु का 9वां अवतार माना जाता है. महात्मा बुद्ध को पीपल के नीचे बैठकर ध्यान लगाने से सम्पूर्ण ज्ञान की प्राप्ती हुई थी. ऐसे में बुद्ध पूर्णिमा पर पीपल के पेड़ के नीचे दीप जलाने और पानी में चीनी और गुड़ मिलाकर चढ़ाने से भगवान विष्णु और महात्मा बुद्ध की असीम कृपा आप पर बनी रहेंगी.

दूसरी ओर बुद्ध पूर्णिमा के शुभ अवसर पर भगवान विष्णु की पूजा करने से भी जीवन में खुशियों की भरमार रहती है. बुद्ध पूर्णिमा पर भगवान विष्णु इस विधि से पूजा करने से लाभ की प्राप्ती होती है. इसके लिए बुद्ध पूर्णिमा के विशेष अवसर पर धूप, गुड़, दीप नेवेद आदि से पूजा करें. इसके साथ ही इश ब्राहाम्ण और जरूरतमंदो को दान करने से आपकी सुई किस्मत खुल जाएगी. लोग बुद्ध पूर्णिमा पर मंदिर जाकर या घर पर भी विधि विधान से पूजा कर सकते हैं.

Buddha Purnima 2019: आज बु्द्ध पूर्णिमा के मौके पर जानें भगवान गौतम बुद्ध के उपदेश और कोट्स

Sheetala Ashtami 2019 Date: शीतला अष्टमी की जानिए पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App