नई दिल्ली. आज यानी शुक्रवार 9 नवंबर को पूरे देश में धूमधाम से भाई दूज का त्योहार मनाया जा रहा है. यह पांच दिनों तक चलने वाले दीपावली के पर्व के आखिरी दिन मनाया जाता है. इस दिन बहन और भाई एक दूसरे के लिए प्यार जताते हैं. बहनें अपने भाइयों के माथे पर तिलक लगाकर उनकी आरती उतारती हैं और उनके लंबे जीवन और उज्जवल भविष्य की कामना करती हैं. वहीं भाई भी अपनी बहन को कुछ उपहार देते हैं. हम आपको बता रहे हैं भाई दूज का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, तिलक समय.

भाई दूज शुभ मुहूर्त
शुभ मुहूर्त शुरू- दोपहर 1:10 मिनट
शुभ मुहूर्त समाप्त- दोपहर 3:27 मिनट
शुभ मुहूर्त की अवधि- 2 घंटे 17 मिनट

पूजा विधि
बहनें इस दिन सबसे पहले आटे का चौक तैयार करें. भाई को चौक पर बिठाएं और हाथों की पूजा करें. पूजा के लिए भाई की हथेली पर चावल का घोल लगाएं. जिसके बाद इसमें सिंदूर लगाकर पान, सुपारी, कद्दु के फूल आदि हाथों पर रखकर धीरे से हाथों पर पानी छोड़े और मंत्र जपें. कई जगहों पर बहनें इस अवसर पर भाइयों की आरती भी उतारती हैं और हाथों में कलावा बांधती हैं. मुंह मीठा करने के लिए मिश्री खिलाएं. इसके बाद संध्या में यमराज के नाम से चौमुखा दीया जलाकर बहनें घर के बाहर उसका मुख दक्षिण दिखा की तरफ रख दें.

बता दें कि इस दिन बहन के घर भोजन की परंपरा है. मान्यता है कि यमुना ने भाई यम को इस दिन खाने पर बुलाया था. इसी वजह से इसे यम द्वितिया भी कहा जाता है. कहा जाता है कि जो व्यक्ति इस दिन अपनी बहन के यहां भोजन करता है वह साल भर हर झगड़े से दूर रहता है. साथ उसी शत्रुओं का कोई भय नहीं होता, हर तरह के संकट से छुटकारा मिलता है. साथ ही भाई का कल्याण होता है.

Bhai Dooj 2018 Dates Calendar: कब है भाई दूज 2018, भाई दूज तारीख डेट कैलेंडर- 9 नवंबर, 2018

Diwali Dresses Trends 2018: ट्रेंडी ड्रेस, इंडो वेस्टर्न और लेटेस्ट साड़ी में स्टाइलिश अवतार के साथ सेलिब्रेट करें दिवाली

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App