नई दिल्ली. 2019 में भारत कई यान और उपग्रह अंतरिक्ष में भेजेगा. ये यान और उपग्रह आम जनता के लिए भी फायदेमंद रहेंगे. इनके अलावा इस साल 2019 में कई ग्रहण भी हैं. इन ग्रहण का थोड़ा बहुत असर भी देखने को मिलेगा. ये असर टेक्नोलॉजी और नक्षत्रों पर होगा. जानें इस साल कौन से ऐसे खगोलिए और अंतरिक्ष बदलाव हैं जो 2019 में देखने को मिलेंगे.

  • 6 जनवरी- साल का पहला सूर्य ग्रहण होगा. चांद, सूर्य को आधा ढक देगा. ये पूर्व एशिया में देखने को मिलेगा.
  • 21 जनवरी- साल का पहला चंद्रग्रहण होगा. ये पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा और साथ ही चांद पृथ्वी के बेहद नजदीक होगा इसलिए पृथ्वी से देखने में बड़ा भी लगेगा.
  • 30 जनवरी- भारत अंतरिक्ष में चंद्रयान-2 मिशन लॉन्च करेगा. इस यान के जरिए कई अंतरिक्ष उपकरण अंतरिक्ष में भेजे जाएंगे.
  • 19 फरवरी- फिर पृथ्वी के नजदीक आएगा चांद. इस साल ऐसा तीन बार होगा.
  • 20 मार्च- ऐसा खास दिन जब दिन और रात बराबर होंगे. दुनियाभर में जितने घंटे के लिए दिन होगा उतना घंटे के लिए रात होगी.
  • 21 मार्च- साल में तीसरी और आखिरी बार पृथ्वी से चांद बड़ा दिखेगा. पृथ्वी और चांद के पास आने से ऐसा होगा.
  • 21 अप्रैल- इस दिन से पृथ्वी से आसमान में उल्कापिंडों की बारिश देखने को मिलेगी.
  • 4 मई- एक बार फिर उल्कापिंडों की बारिश आसमान में देख सकते हैं.
  • 21 जून- ये गर्मियों की शुरुआत है. जब आधी पृथ्वी सूर्य की तरफ झुक जाती है.
  • 20 जुलाई- चांद पर पहले इंसान के जाने को 50 साल पूरे.
  • 12 अगस्त- शाम से लेकर अगले दिन सुबह तक आसमान में दिखेंगे गिरते हुए उल्कापिंड.
  • 23 सितंबर- एक बार फिर दिन और रात बराबर होंगे. दुनियाभर में जितने घंटे के लिए दिन होगा उतना घंटे के लिए रात होगी.
  • 21 अक्टूबर- उल्कापिंड आसमान में टूटते हुए दिखेंगे.
  • 21 दिसंबर- सर्दियों की शुरुआत. इस दिन से आधी दुनिया सूर्य से दूर हो जाएगी.
  • 26 दिसंबर- साल का आखिरी सूर्य ग्रहण. चांद, सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाएगा जिससे सूर्य की किरणें एक गोले में ही दिखाई देंगी.

Solar Eclipse in 6 January 2019: जानें कहां और कैसे देखें रविवार को साल का पहला सूर्य ग्रहण

Surya Grahan 2019: सूर्यग्रहण खत्म होने के बाद इन कामों को करने से कभी नही होगी पैसों की तंगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App