नई दिल्ली: Ashtami 2019 April:  5 अप्रैल से शुरु हुए चैत्र नवरात्रि का आयोजन सभी जगहों पर किए गए  हैं. दुर्गा मां के नौ रुप की पूजा बड़ी ही धुमधाम से किया जा  की रही है. 13 अप्रैल को नवराात्रि का नौवा व्रत है. इस मौके पर 13 अप्रैल को सुबह 8 से बजे 14 अप्रैल शाम 6 बजे का मुहूर्त रामनवमी को रखा गया है.  इस साल की रामनवमी पुष्म नक्षत्र के योग में बनाई जाएगी. ये योग 27 नक्षत्रों में सबसे अच्छा माना जाता है. इसी योग में भगवान राम का जन्म हुआ था.

रामनवमी के दिन भक्तजन कन्या पूजन करके देवी मां को विदा करते हैं. यही नहीं इस खास दिन सभी भक्त रामनवमी की पुण्य पर्व के रुप में भी मनाते हैं. इस खास दिन भक्त बेहद ही हर्ष उल्लास के इस दिन को मनाते हैं. इस खास दिन भंडरा भी किया जाता है. इस दिन एक अलग ही तरह की उमंग देखने को मिलती है. 

नवरात्रि में नौ देवियों की पूजा की जाता ही. आज देवियों में से आज छठवा व्रत कात्यानी देवी का है. इस दिन मां कात्यानी की पूजा की जा रही है. कुछ भक्त जन रामनवमी से पहले अष्ठमी के दिन यानी महागौरी माता के दिन ही कन्या पूजन का पाठ करते हैं. इस दिन वही मां को विदा करने का काम करते हैं और नौंवे दिन रामनवमी का जश्न मनाते हैं. 

नवरात्रि के नौंवे दिन देवी के आखिरी स्वरुप की पूजा होती है.  इस दिन इन पूजा के साथ -साथ हवन भी किया जाता है. हवन के साथ ही सुबह देवी मां सभी के घरों और मंदिरों में प्रकट होती है ऐसा भक्त जन का विश्ववास होता है. इसी विश्ववास के साथ भक्त जन इन व्रतों के आखिरी में पुजा पाठ करते हैं और दान करते हैं.

Ram Navmi 2019: जानिए, राम नवमी की तिथि और शुभ मुहूर्त के बारे में

Happy Chaitra Navratri 2019 GIF: चैत्र नवरात्रि 6 अप्रैल से शुरू, फेसबुक व्हाट्सएप पर भेजें ये एचडी जिफ

One response to “Ashtami 2019 April: चैत्र नवरात्रि 2019, अष्टमी नवमी का दिन, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App