नई दिल्ली: कोरोना के संकटकाल के बीच रविवार को बेहद शुभ दिन अक्ष्य तृतीया आने वाला है. अगर आप कोई शुभ काम की शुरूआत करने चाहते हैं तो रविवार को बिना किसी पंडित से पूछे या पंचाग देखे वो काम शुरू कर सकते हैं. इस बार अक्षय तृतीया पर उदय व्यापिनी और रोहिणी नक्षत्र का संयोग बन रहा है जो काफी फलदायी होता है. अक्षय तृतीया पर भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की विधी-विधान से पूजा की जाती है और उन्हें प्रसन्न किया जाता है. ऐसी मान्याताएं है कि आज के दिन किए हुए पूजा-पाठ और दान-पुण्य से मिला फल हमेशा बरकार रहता है और अनंतकाल तक मनुष्यों के साथ चलता है. इस दिन ठंडी-ठंडी चीजों के दान करने की परंपरा है. इस दिन लोग पानी से भरे घड़े, कुल्हड़, पंखे, छाता, चावल, खरबूजा, कड़डी, तरबूज, चीनी, सत्तू आदि का दान करते हैं. इस दिन सोना चांदी खरीदना भी बेहद शुभ होता है. इस दिन आप सोना, चांदी, रेशमी कपड़े, चावल, हल्दी, फूल, पौधे, शंख, मिट्टी के बर्तन आदि खरीदते हैं तो ये शुभता का प्रतीक माने जाते हैं.

कहा जाता है कि गृहस्थ जीवन जी रहे लोगों को आज के दिन दान-पुण्य जरूर करना चाहिए. ऐसा करने से उनके धन और संपत्ति में कई गुना बढ़ोतरी होती है. इस दिन पति-पत्नी को सुबह-सवेरे उठकर स्नान आदि करके विधि-विधान से भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए. इस दौरान भगवान विष्णु को पंचामृत से स्नान कराकर जौ या सत्तू अर्पित करना चाहिए. अगर आपके घर में शंख हो तो शंख के जल से भगवान विष्णु का अभिषेक करने और फिर उस जल को घर में छिड़कने से सुख समृद्धि आती है. आज के दिन माता लक्ष्मी को पंच मेवे का भोग लगाया जाता है जबकि भगवान विष्णु को खीर का भोग लगाया जाता है.

पितरों के लिए भी अक्षय तृतीया का दिन बेहद शुभ होता है. इस दिन पितरों के नाम से किया गया दान-पुण्य उन्हें मिलता है और पितर अपने कुल परिवार को धन-धान्य का आशीर्वाद देते हैं. कहते हैं कि इस दिन किया हुआ दान-पुण्य अक्ष्य लाभ देता है.

Akshaya Tritiya 2020 Totke: धनवान बना देंगे अक्षय तृतीया के ये टोटके, मां लक्ष्मी की बरसेगी कृपा

Happy Akshaya Tritiya 2020 Shayari: अक्षय तृतीया पर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को इन शुभकामना संदेशों के साथ करें विश