नई दिल्ली: आज के समय में जमीन खरीद कर घर बनाने के साथ-साथ फ्लैट में अपना बसेरा करने का चलन तेजी से बढ़ गया है. आप जानते हैं कि जमीन खरीदकर घर का निर्माण कराते समय वास्तु नियमों का पूरी तरह ध्यान रखना पड़ता है. लेकिन अगर आप घर न बनाकर फ्लैट खरीदते हैं तो ऐसा बिल्कुल भी संभव नहीं की वहां सबकुछ वास्तु के नियमों के अनुसार होता है. दरअसल कई बार वास्तु के अनुसार सबकुछ नहीं होने से जीवन में परेशानियां प्रवेश कर सकती हैं. ऐसे में अगर आप कोई नया फ्लैट लेने का विचार कर रहे हैं तो आज हम आपको बता रहे हैं वास्तु से जुड़ी कुछ जानकारी. इसके हिसाब अगर आप घर खरीदेंगे तो आने वाली कई परेशानियों से दूर रहेंगे.

वास्तु शास्त्र के अनुसार, आप जो फ्लैट खरीदने का विचार कर रहे हैं उसका वर्गाकार या आयताकार होना जरूरी है. टेढ़े-मेढ़े, गोल या वक्राकार की आकार वाले फ्लैट को खरीदने से बचाव करना ही ठीक रहता है. वहीं जिस घर की बालकनी या खिड़की उत्तर या पूर्व दिशा में है तो उसे शुभ बताया जाता है. इसके अलावा खरीदने से पहले जरूर जांच ले कि शौचालय या रसोईघर उत्तर-पूर्व दिशा में तो नहीं है, अगर ऐसा है तो वह आपको लिए अशुभ हो सकता है. दरअसल वास्तु के मुताबिक, बालकनी या खिड़की अगर फ्लैट की पश्चिम दिशा में है तो वह शुभ माना जाता है. वहीं ख्याल रखें कि फ्लैट का मुख्य प्रवेश द्वार शौचालय के द्वार की ओर न हो, वरना इससे नकारात्मक ऊर्जा का असर बना रहता है.

वहीं अगर फ्लैट में बीम है तो उसके नीचे कभी भी पढ़ना, बैठना या भोजन करने से बचना चाहिए, क्योंकि ऐसा करना अशुभ बताया गया है. इसके साथ ही फ्लैट की उत्तर एंव पू्र्व दिशा की दीवारों पर देवी-देवताओं के चित्र लगाए जा सकते हैं. ऐसे में अगर घर के किसी मृत सदस्य की लगाना चाहते हैं तो और दक्षिण दिशा दीवार पर लगा सकते हैं. लड़ाई-झगड़ा, युद्ध, हिंसक पशु-पक्षी, डरावने चित्रों दीवार पर लगाने से बचना चाहिए. इन्हें अशुभ माना जाता है. इसके साथ ही क्रीम, सफेद, पीला एंव हल्का हरा रंग फ्लैट की दीवारों पर शुभ माना जाता है.

फैमिली गुरु: इस महाउपाय के बाद पराई औरत की ओर नहीं देंखेगे आपके पति

फैमिली गुरु: शादी में आ रही बाधा को दूर करेंगे जय मदान केे ये उपाय

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App