नई दिल्ली. अगर आप अपने जीवन में होने वाले परिवर्तनों के बारे में जानना चाहते हैं तो पढ़िए आज का यानि 8 नवंबर 2017, बुधवार का राशिफल. दरअसल हर दिन हर किसी के लिए एक जैसा नहीं होता. हर दिन कभी किसी के लिए नई सौगात तो किसी के लिए चुनौतियां लेकर आता है. इसीलिए हम आपको ऐसी चुनौतियों और खुशखबरी से जुड़े संकेत देकर आपका दिन बेहतर बनाने की कोशिश करते हैं. साथ ही ये राशिफल आपको बताएगा कि आज आपके सितारें क्या कहते हैं.
 
1. मेष (Aries)
परिवार वालों का सहयोग मिलेगा. नए कार्य करने के लिए आज का दिन शुभ है. जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा. अपनी वाणी पर संयम रखें.
 
2.वृषभ (Taurus)
स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहे. दोस्तों के साथ घूमने जा सकते हैं. वाी पर संयम रखें. फिजूलखर्जी से बचें. नकारात्मक विचारों से बचें. 
 
3.मिथुन (Gemini)
खरीदारी के योग है. धन लाभ होगा. नौकरी के अवसर मिलेंगे. खर्चों पर नियंत्रण रखें. मन में चिंता बनेगी. यात्रा का योग बनेगा.
 
4.कर्क (Cancer)
नए कार्यों की योजना बनेगी. संतान का सुख मिलेगा. दोस्तों से मदद मिलेगी. गाड़ी तेज न चलाएं.
 
5.सिंह(Leo)
परिवार में तनाव बढ़ेगा. इस कारण पारिवारिक कलेश हो सकता है. व्यर्थ की भागदौड़ से बचें. खरीदारी करने की योजना बनेगी.
 
6.कन्या (Virgo)
फिजूलखर्ची बढ़ेगी. आत्मविश्वास से अन्य लोगों का ध्यान अपनी ओर खीचेंगे. व्यापार में तरक्की होगी. लेन-देन में सावधानी बरतें.
 
7. तुला (Libra)
 नए काम को शुरू करने के लिए दिन शुभ है. लंबे प्रवास या धार्मिक स्थल की मुलाकात करने का प्रसंग उपस्थित होगा. कारोबार में लाभ के अवसर बढ़ेंगे. दोस्तों से शुभ समाचार मिलेंगे.
 
8.वृश्चिक (Scorpio)
घरेलू कलह की वजह से मानसिक तनाव बढ़ेगा. नौकरी में कदम संभल कर रखें. किसी पर विश्वास जल्दी न करें.
 
9.धनु (Sagittarius)
घरेलू उलझने बढ़ेंगी. मानसिक तनाव बढ़ेगा. कारोबार में तरक्की के अवसर बढ़ेंगे.भागीदारी से लाभ होगा. सम्मान और ख्याति मिलेगी. नौकरी में सफलता मिल सकती है. 
                             
10.मकर (Capricorn) 
घर मे सुख शांति का महौल रहेगा. होने वाली फिजूलखर्ची कम होगी. नौकरी पर सहकर्मियों का साथ मिलेगा. सेहत में सुधार होगा.
 
11.कुंभ (Aquarius)
यात्रा पर न जाएं. वाणी पर काबू रखें. कारोबारियों को कानूनी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. संतान की ओर से कष्ट मिलेगा. विश्वास से काम लें.
 
12. मीन (Pisces)
आय के स्त्रोत बढ़ेंगे.  परिवार में तनाव, वैचारिक मतभेद हो सकता है. वाहन चलाने में सावधानी बरतें, संघर्ष करना पड़ेगा. नकारात्मक विचारों से बचें.
संकष्टी चतुर्थी 2017: अंगारकी संकष्टी चतुर्थी पूजा विधि और शुभ मुहूर्त 
गुरु नानक जयंती 2017: गुरु पर्व मनाने के पीछे ये है वजह