नई दिल्ली : आज माघ पूर्णिमा है. पूर्णिमा और एकादसी के दिन भगवान विष्णु की विधिवत पूजा करने से सर्वमनोकामना सिद्धि मिलती है. शास्त्रों की मानें तो माघ पूर्णिमा पर गंगा स्नान करने से साल पर का पाप धुल जाता है. साथ ही मनुष्य पाप कर्मों से पूरे साल दूर रहता है. आज भगवान विष्णु व्रत से उतने खुश नहीं होते जितने गंगा में स्नान करने से होते हैं.
 
मुहूर्त
पूर्णिमा तिथि आरंभ सुबह 07:30 से 10 फरवरी 2017
पूर्णिमा तिथि समाप्त सुबह 06:02 तक 11 फरवरी 2017
 
पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना और ध्यान का बहुत महत्वपूर्ण है. आज विष्णु के 10 अवतारों की पूजा करनी चाहिए. विष्णु के 10 अवतारों की कथा सुनने और उनके मंत्रों के जाप से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं.
 
सुख-शांति, सफल दांपत्य के लिए इस मंत्र का 51 बार पाठ करें
मूकं करोति वाचालं पंगुलंघयतेगिरिम्। यत्कृपा तंहम् वन्दे परमानन्दं माधवम्।।
 
सर्वकामना सिद्धि के लिए इस मंत्र का 21 बार पाठ करें 
शान्ताकारं भुजगशयनं पद्मनाभं सुरेशं विश्वाधारंम गगनसदृशं मेधवर्णं शुभांगम्।
लक्ष्मीकान्तं कमलनयनं योगिभिध्र्यानगम्यं वन्देविष्णुं भवभयहरं सर्वलोकैकनाथम्।।
 
रोग-व्याधि विनाश के लिए
शशंक चक्रं किरीटकुंडलं सपीतवस्त्रं सरसिरूहेक्षणं।
सहस्त्राक्षवक्षस्थलकौस्तुभश्रियं नमामि विष्णुं शिरसा चतुर्भुजम्।।
 
अंत में आरती करें और अपने प्रसाद का वितरण करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App