नई दिल्ली : आज से माता रानी के गुप्त नवरात्रि शुरू हो रही है जो 5 फरवरी को खत्म होगी. गुप्त नवरात्रि को माघ नवरात्रि भी कहते हैं. गुप्त नवरात्र मां की कृपा और गुप्त सिद्धियां दिलाने वाला होता है.
 
नवरात्रि में किए गए उपाय असफल नहीं होते हैं उनके पूरे होने की संभावना होती है. आज हम आपको संपूर्ण पूजा विधि और मुहूर्त के बारे में भी विस्तार से बताएंगे.
 
सबसे पहले प्रातःकाल स्नान करके पूजन सामग्री के साथ पूजा स्थल पर पूर्वाभिमुख (पूर्व दिशा की ओर मुंह करके) आसन लगाकर बैठें. उसके बाद नीचे दी गई विधि अनुसार पूजा प्रारंभ करें-
 
1. नीचे लिखे मंत्र का उच्चारण कर पूजन सामग्री और अपने शरीर पर जल छिड़कें
    ॐ अपवित्र: पवित्रो वा सर्वावस्थां गतोअपी वा.
     य: स्मरेत पुण्डरीकाक्षं स बाहान्तर: शुचि:
2. हाथ में अक्षत, फूल, और जल लेकर पूजा का संकल्प करें.
3. माँ शैलपुत्री की मूर्ती के सामने मिट्टी के ऊपर कलश रखकर हाथ में अक्षत, फूल, और गंगाजल लेकर वरूण देव का आवाहन करें.
4. पूजन सामग्री के साथ विधिवत पूजा करें.
5. उसके बाद आरती करें और प्रसाद वितरण करें.
 
कैसे मिलेगा मनचाहा दूल्हा ?
लड़कियां गुप्त नवरात्रि में शिव मंदिर जरुर जाएं. वहां भगवान शिव और मां पार्वती पर जल और दूध चढ़ाएं साथ ही चंदन, पुष्प, धूप, दीप और नैवेद्य से उनका पूजन करें. अब मौली से उन दोनों के बीच में गठबंधन करें. अब वहां बैठकर लाल चंदन की माला से इस मंत्र का जाप 108 बार करें
 
हे गौरी शंकरार्धांगी। यथा त्वं शंकर प्रिया।
तथा मां कुरु कल्याणी, कान्त कान्तां सुदुर्लभाम्।।
 
इसके बाद तीन महीने तक रोज इसी मंत्र का जाप शिव मंदिर में या अपने घर के पूजाकक्ष में मां पार्वती के सामने 108 बार करें.
 
शीघ्र विवाह के लिए
गुप्त नवरात्रि में शिव-पार्वती का एक चित्र अपने पूजास्थल में रखें और उनकी पूजा-अर्चना करने के पश्चात मंत्र का 3, 5 या 10 माला जाप करें. जाप के बाद भगवान शिव से विवाह में आ रही बाधाओं को दूर करने की प्रार्थना करें-
 
मंत्र- ऊं शं शंकराय सकल-जन्मार्जित- पाप-विध्वंसनाय,
पुरुषार्थ-चतुष्टय- लाभाय च पतिं मे देहि कुरु कुरु स्वाहा।।
 
दांपत्य सुख के लिए उपाय
यदि जीवनसाथी से अनबन होती रहती है तो गुप्त नवरात्रि में प्रतिदिन नीचे लिखी चौपाई को पढ़ते हुए 108 बार अग्नि में घी से आहुतियां दें. अब नित्य सुबह उठकर पूजा के समय इस चौपाई को 21 बार पढ़ें. यदि संभव हो तो अपने जीवनसाथी से भी इस चौपाई का जाप करने के लिए कहें-
 
चौपाई- सब नर करहिं परस्पर प्रीति।
चलहिं स्वधर्म निरत श्रुति नीति।।
 
मनचाही दुल्हन के लिए उपाय
गुप्त नवरात्रि के दौरान जो भी सोमवार आए. उस दिन सुबह किसी शिव मंदिर में जाएं. वहां शिवलिंग पर दूध, दही, घी, शहद और शक्कर चढ़ाते हुए उसे अच्छी तरह से साफ करें. फिर शुद्ध जल चढ़ाएं और पूरे मंदिर में झाड़ू लगाकर उसे साफ करें.
 
अब भगवान शिव की चंदन, पुष्प एवं धूप, दीप आदि से पूजा-अर्चना करें. रात 10 बजे बाद अग्नि प्रज्वलित करके ऊं नम: शिवाय मंत्र का उच्चारण करते हुए घी से 108 आहुति दें. अब 40 दिनों तक नित्य इसी मंत्र का पांच माला जाप भगवान शिव के सम्मुख करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App