जयपुर. मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान में भी सीएम पद पर जारी विवाद सुलझ गया है. राजस्थान का नए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत होंगे जबकि डिप्टी सीएम का पद सचिन पायलट को मिला है.  दोनों के बीच सीएम पद पर चल रही रस्साकशी के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान में सीएम पद की रेस में शामिल दो दिग्गज अशोक गहलोत और सचिन पायलट की मुस्कुराती हुई तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की थी तभी राजनीतिक जानकारों को समझ में आ गया था कि राहुल गांधी ने बीच का फॉर्मूला निकाल लिया है.  गांधी के इस ट्विट से यह मतलब निकाला जा रहा है कि सीएम का नाम तय हो चुका है. बस औपचारिक ऐलान होना बाकी है. बताते चले कि मध्य प्रदेश में सीएम पद की विवाद के दौरान भी राहुल गांधी ने कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ की तस्वीर साझा की थी. 

अशोक गहलोत और सचिन पायलट के साथ की तस्वीर ट्विट करते हुए राहुल गांधी के लिखा, “संयुक्त राजस्थान के रंग”. गौरतलब हो कि सुबह तक राजस्थान में सीएम पद को लेकर जारी विवाद गहराता नजर आ रहा था. लेकिन अब विवाद समाप्त हो गया है.

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 के नतीजे आ चुके हैं. राज्य में राहुल गांधी की कांग्रेस बहुमत से 1 सीट पीछे लेकिन 99 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. वहीं पूर्व मुखयमंत्री वसुंधरा राजे के नेतत्व में लड़ने वाली बीजेपी सिर्फ 73 सीटों पर सिमट चुकी है. अन्य दलों को 27 सीटें मिली है जिनमें मायावती की बसपा और अखिलेश यादव की सपा भी शामिल हैं. मंगलवार को नतीजे आने के बाद मायावती और अखिलेश यादव साफ कर चुके हैं कि वे कांग्रेस को राजस्थान में सरकार बनाने में सहयोग करेंगे. इसका सीधा मतलब है कि कांग्रेस सरकार बनाने जा रही है लेकिन अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि पार्टी सचिन पायलट और अशोक गहलोत में से किसे सीएम चुनेगी.

बुधवार शाम 4 बजे राजधानी जयपुर में विधायक दल की बैठक हुई. जहां सीएम के नाम को लेकर चर्चा भी हुई. हालांकि कोई नाम फाइनल नहीं हो सका. इसके बाद राहुल गांधी के घर पर भी इन दोनों नेताओं की बैठक हुई. बैठक में क्या नतीजा निकला, इसका खुलासा होना बाकी है. मंगलवार को नतीजे जारी होने से पहले ही कांग्रेस पार्टी की ओर से वरिष्ठ नेता के सी वेणुगोपाल पर्यवेक्षक बनकर जयपुर पहुंच चुके थे. बता दें कि अशोक गहलोत पहले भी राजस्थान की सत्ता संभाल चुके हैं, जनता के बीच उनकी भारी पकड़ मानी जाती है. वहीं दिवंगत कांग्रेस नेता राजेश पायलट के बेटे सचिन पायलट युवाओं का बड़ा चेहरा और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी माने जाते हैं. सचिन पायलट सबसे कम उम्र में सांसद भी रह चुके हैं. हालांकि जब सीएम को लेकर दोनों से पूछा जाता रहा तो हमेशा उन्होंने एक ही जवाब दिया कि जो विधायक दल की बैठक का फैसला होगा, दोनों उसे स्वीकार करेंगे.

Rajasthan Government CM Swearing-In Highlights:

Highlights

अशोक गहलोत होंगे मुख्यमंत्री, सचिन पायलट बनेंगे डिप्टी सीएम- सूत्र

राजस्थान में सीएम पद जारी विवाद थम चुका है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार राजस्थान में अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री जबकि सचिन पायलट को डिप्टी सीएम का पद दिया जाएगा. हालांकि अभी भी आधिकारिक घोषणा होने का इंतजार है.

कौन बनेगा मुख्यमंत्री, एेलान शाम 4.30 बजे

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बनेंगे या सचिन पायलट. इसका एेलान कांग्रेस मुख्यालय में शाम 4.30 बजे किया जाएगा. इससे पहले गहलोत और पायलट दोनों ने राहुल गांधी के साथ उनके निवास पर मुलाकात की.

मुख्यमंत्री पद के लिए नाम में देरी पर अशोक गहलोत का बयान

राजस्थान में मुख्यमंत्री पद पर नाम घोषित करने में देरी होने पर पार्टी वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने बयान दिया. उन्होंने कहा, 'फैसले में देरी नहीं हो रही है. भाजपा झूठ फैला रही है. उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री नाम पर फैसला लेने में भाजपा ने 7 दिन लगाए थे वहीं महाराष्ट्र में 9 दिन. इन प्रक्रिया में समय लगता है. पर्यवेक्षकों को राज्य में जाकर चर्चा करनी पड़ती है. जब भी ऐसा फैसला लेना होता है तो इसमें समय लगता है.'

सचिन पायलेट ने पेश की मुख्यमंत्री पद की दावेदारी

सचिन पायलेट ने राजस्थान का मुख्यमंत्री बनने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने अपनी दावेदारी पेश की है. उन्होंने अपनी मेहनत और काम गिनवाए. हालांकि नई दिल्ली में पार्टी आलाकमान राजस्थान मुख्यमंत्री पद के लिए अशोक गहलोत के नाम पर मुहर लगा चुके हैं लेकिन सचिन पायलेट ये मानने के लिए तैयार नहीं हैं. उनका कहना है कि उन्होंने राजस्थान के लिए बहुत काम किया है उन्हें पद न देने से जनता के पास गलत संदेश जाएगा.

राहुल गांधी के आवास पर पहुंचे सचिन पायलट, होगी बातचीत

राजस्थान में मुख्यमंंत्री पद की रेस में बने सचिन पायलट अभी-अभी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंचे हैं. बताया जा रहा है कि सचिन मुख्यमंत्री पद पर अपनी दावेदारी पेश करेंगे. इससे पहले सचिन ने ट्विट कर सर्मथकों से शांति बरतने की अपील की थी.

राजस्थान में मुख्यमंत्री पद पर कोई गतिरोध नहींं पूरी पार्टी एकजुट- अशोक गहलोत

राजस्थान में सीएम की रेस में सबसे आगे चल रहे अशोक गहलोत का कहना है कि राजस्थान में मुख्यमंत्री पद कोई विवाद नहीं है. पार्टी के सभी चुने हुए विधायक एकजुट है. अपने बयान में गहलोत पार्टी के एकजुट होने की बात कर रहे हैं लेकिन राज्य में जमीनी हकीकत कुछ और है. कई जगहों पर कार्यकर्ता सचिन पायलट का दांवा करते हुए विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं.

सचिन पायलट को दिल्ली में ही रोका गया

राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के दावेदार सचिन पायलट को दिल्ली में ही रोक लिया गया है. वहीं एक अन्य दावेदार अशोक गहलोत राहुल गांधी से मिलने के बाद जयपुर के लिए रवाना हो गए हैं. कहा जा रहा है कि आज देर शाम अशोक गहलोत के मुख्यमंत्री बनने का ऐलान हो सकता है.

सचिन पायलट के समर्थकों ने करौली में लगाया जाम

राजस्थान में कांग्रेस भले ही जीत गई हो लेकिन उसकी मुश्किलें कम नहीं होने वाली हैं. सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि अशोक गहलोत राजस्थान के अगले सीएम होंगे. इस पर सचिन पायलट के समर्थक उद्वेलित हैं और करौली में जाम लगा दिया है.

सूत्रों के हवाले से खबर, अशोक गहलोत होंगे राजस्थान सीएम!

राहुल गांधी के साथ हुई बैठक के बाद यह साफ नहीं हो सका था कि राजस्थान का सीएम कौन बनेगा. लेकिन अब सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि अशोक गहलोत ही राजस्थान के अगले मुख्यमंत्री होंगे. इसके अलावा मध्य प्रदेश में भी कमलनाथ के नाम पर केंद्रीय सहमति भी बनती दिख रही है.

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद जयपुर लौटे अशोक गहलोत और सचिन पायलट, 'कौन बनेगा मुख्यमंत्री' अभी भी सवाल

राजस्थान कांग्रेस के नेता अशोक गहलोत और सचिन पायलट राहुल गाँधी से मुलाकात के बाद जयपुर लौट गए हैं. हालांकि राजस्थान में कौन मुख्यमंत्री होगा यह अभी भी एक सवाल है. दोनों नेताओं ने एयरपोर्ट पर भी मीडिया से बात नहीं की.

दिल्ली में सचिन पायलट और अशोक गहलोत के समर्थकों का हंगामा

दिल्ली में राहुल गांधी के घर पर राजस्थान कांग्रेस के नेताओं की बैठक समाप्त हो चुकी है. सचिन पायलट और अशोक गहलोत मीटिंग को अटेंड कर बाहर जा चुके हैं. राहुल गांधी के घर से बाहर निकलने के बाद इन दोनों में से किसी नेता ने भी मीडिया से बात नहीं की. वहीं घर के बाहर दोनों के समर्थकों का जमावड़ा है. ये समर्थक काफी नारेबाजी भी कर रहे हैं. सूत्रों के हवाले से खबर है कि अशोक गहलोत ने राहुल गांधी से सचिन पायलट के समर्थकों की नारेबाजी से आपत्ति जताई है.

राहुल गांधी के घर पर बैठक जारी

राजस्थान में मुख्यमंत्री कौन होगा, इसके लिए राहुल गांधी के घर बैठकों का दौर जारी है. प्रियंका गांधी भी घर पर मौजूद हैं. सचिन पायलट पहले से ही इस बैठक में मौजूद थे. अभी-अभी अशोक गहलोत भी राहुल गांधी के घर पर पहुंचे हैं.

राहुल गांधी दिल्ली में करेंगे बैठक

आज राहुल गांधी दिल्ली में राजस्थान और मध्यप्रदेश के पर्यवेक्षकों के साथ बैठक करेंगे. राजस्थान में अभी तक तय नहीं हो पाया है कि मुख्यमंत्री पद के लिए पार्टी किसका नाम घोषित करेगी. इसपर फैसला पार्टी के आलाकमान लेंगे. राजस्थान के मुख्यमंत्री पद के दावेदार अशोक गहलोत और सचिन पायलट राहुल गांधी से मिलने के लिए दिल्ली रवाना हो गए हैं. दोनों आज साढ़े 9 बजे राहुल गांधी से मिलेंगे. सूत्रों की मानें तो राजस्थान में कांग्रेस उपमुख्यमंत्री बनाने का दांव चल सकती है.

सीएम कौन, अब फैसला राहुल गांधी लेंगे

राजस्थान में हुए कांग्रेस विधायक दल की बैठक में भी नहीं तय हो पाया कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा. अब इसका फैसला पार्टी आलाकमान के हाथों में दे दिया गया है. सचिन पायलट और अशोक गहलोत को कल दिल्ली बुलाया गया है, जहां वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत तमाम शीर्ष नेताओं से मिलेंगे. फिलहाल विधायक दल की बैठक सम्पन्न हो चुकी है और सचिन पायलट व अशोल गहलोत सरकार बनाने का दावा पेश करने राजभवन राज्यपाल से मिलने जा रहे हैं.

अशोक गहलोत बन सकते हैं सीएम: सूत्र

सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि अशोक गहलोत राजस्थान के नए सीएम बन सकते हैं. वहीं संतुलन के लिए उत्तर प्रदेश की तरह दो उपमुख्यमंत्री बनाने की संभावना पर भी विचार किया जा रहा है. सचिन पायलट के अलावा सीपी जोशी दूसरे उपमुख्यमंत्री हो सकते हैं.

सचिन पायलट के समर्थकों का हंगामा

राजस्थान में विधायक दल की बैठक में हंगामा, सचिन पायलट के समर्थक जमकर हंगामा कर रहे हैं. पर्यवेक्षक वेणुगोपाल ने सचिन पायलट और अशोक गहलोत के साथ बंद कमरे में भी मीटिंग की. लेकिन समर्थकों का हंगामा शांत नहीं हो रहा है

पर्यवेक्षक वेणुगोपाल की मौजूदगी में सचिन पायलट और अशोक गहलोत बंद कमरे में कर रहे मीटिंग

राजस्थान में सीएम को लेकर संशय बना हुआ है, दोनों सीएम कैंडिडेट सचिन पायलट और अशोक गहलोत बंद कमरे में पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी मेें मीटिंग कर रहे हैं. इससे पहले दोनों विधायक दल की बैठक में मौजूद थे.

चुनाव प्रचार में सीएम के सवाल से बचते नजर आते रहे सचिन पायलट और अशोक गहलोत

राजस्थान में चुनाव प्रचार के समय जब भी अशोक गहलोत और सचिन पायलट से मुख्यमंत्री बनने को लेकर सवाल किया गया तो हमेशा दोनों की ओर से जवाब मिला की जो विधायक दल की बैठक फैसला करेगी उसे सीएम बनाया जाएगा.

राजस्थान में सीएम पद के लिए सचिन पायल और अशोक गहलोत बड़ा चेहरा

राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के लिए सचिन पायलट और अशोक गहलोत का नाम लिया जा रहा है. हालांकि पार्टी की ओर से अभी तक कुछ भी साफ नहीं हो सका है. विधायक दल की बैठक के बाद ही कुछ फैसला लिया जाएगा. राजस्थान में कांग्रेस के दिग्गज नेता केसी वेणुगोपाल को पर्यवेक्षक बनाकर भेजा गया है. 

कौन होगा राजस्थान का मुख्यमंत्री

राजस्थान में कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी को पटखनी देते हुए 200 में से 99 सीटों  पर अपना कब्जा जमा लिया है. हालांकि कांग्रेस स्पष्ट बहुमत से 1 सीट दूर रही लेकिन मायावती की बसपा और अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ने  जीते हुए विधायकों संग अपना समर्थन कांग्रेस को दिया जिससे यह साफ हो गया कि कांग्रेस पार्टी राज्य में सरकार बनाएगी. लेकिन अब सवाल है कि सीएम कौन बनेगा.  

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App