Uttarakhand Elections 2022

उत्तराखंड, Uttarakhand Elections 2022: उत्तरखंड विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी आलाकमान ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मंत्री हरक सिंह रावत को मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया है. साथ ही उन्हें पार्टी से भी 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि उनके कांग्रेस नेताओं से मिलने जैसी गतिविधियों में शामिल होने के चलते यह फैसला लिया गया है.

भाजपा से हरक सिंह रावत की बर्खास्तगी

चुनाव से ठीक पहले भाजपा ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हरक सिंह रावत को धामी मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरक सिंह रावत को बर्खास्त करने की सिफारिश राज्यपाल को सौंपी है. खबर है कि बीते कुछ समय से हरक सिंह का पार्टी के साथ मनमुटाव चल रहा था, अब बर्खास्तगी के बाद हरक सिंह आज कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं.

मंत्रिमंडल से दिया था इस्तीफ़ा

कुछ समय पहले ही हरक सिंह रावत ने धामी मंत्रिमंडल से इस्तीफ़ा दिया था. हालांकि राज्य्पाल ने उनका इस्तीफ़ा स्वीकार नहीं किया था और उन्हें मनाने की कोशिश की जा रही थी लेकिन उन्होंने पार्टी छोड़ने का मन बना लिया था. जानकारी के मुताबिक हरक सिंह रावत अपनी विधानसभा सीट से बदलने के साथ ही अपनी पुत्रवधू अनुकृति के लिए भी बीजेपी से टिकट मांग रहे थे. माना जा रहा है कि इन्हीं मुद्दों पर उनका पार्टी के साथ मनमुटाव चल रहा था, ऐसे हरक सिंह रावत के कांग्रेस में शामिल होने की भी अटकलें लगाई जा रही थी लेकिन इससे पहले की वो पार्टी छोड़ते पार्टी ने ही बाहर रास्ता दिखा दिया.

हरक सिंह ने दी सफाई

कांग्रेस में शामिल होने जैसे गतिविधियों में शामिल होने की बातों पर हरक सिंह ने सफाई पेश करते हुए कहा कि उनके दिल्ली जाने को उनकी बर्खास्तगी का आधार बनाया गया. उन्हें इस बर्खास्तगी की कोई जानकारी नहीं थी.

 

यह भी पढ़ें:

Punjab: छत्तीसगसढ़ के सीएम भूपेश बघेल ,शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह के खिलाफ FIR, कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करना पड़ा भारी

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर