Sunday, June 26, 2022

किसी कश्ती की तरफ नहीं देखा, मेरा जहाज ही काफी है- आज़म खान

लखनऊ, समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान 23 महीने बाद सीतापुर जेल से छूटकर बाहर आ गए हैं और बाहर आते ही आजम खान एक बार फिर राजनीति में सक्रिय हो गए हैं. उनके जेल से छूटने के बाद यूपी की सियासत भी गरमा गई है. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के नेता शिवपाल यादव की आजम से नजकीदियां और सीक्रेट मीटिंग से चर्चाओं का बाजार भी गरम है. इस बीच, मंगलवार को सपा नेता आजम खान ने लखनऊ में शिवपाल संग मुलाकातों पर मीडिया से खुलकर बातचीत की. उन्होंने ईडी जांच, कपिल सिब्बल समेत अन्य राजनीतिक मुद्दों पर खुलकर अपना पक्ष रखा.

आजम खान ने सबसे पहले अपने स्वास्थ्य को लेकर चिंता जताते हुए कहा- अभी मेरा स्वास्थ्य ठीक नहीं है. कमजोरी है और खड़े होने में भी परेशानी होती है, लेकिन सदन के लिए चुना गया हूं तो किसी भी हालत में सदन ज़रूर जाऊंगा.

अभी तक मैंने लकीर खींच रखी थी, लेकिन..

आजम खान ने शिवपाल यादव से मुलाकात पर कहा- शिवपालजी से मुलाकात पहले भी हुई है और आगे भी उनसे मुलाक़ात होती ही रहेगी. सिर्फ उन्हीं से क्यों और भी लोगों से भी मुलाकात होगी. हां, लेकिन अभी तक मैंने एक लाइन खींच कर रखी थी, किसी भी कश्ती की तरफ न गया और न उसपर सवार हुआ, लेकिन दुआ-सलाम तो सबसे होनी ही चाहिए. जब सब साथ बैठकर चाय-नाश्ता करते हैं तो क्या मैं नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि फिलहाल मैं किसी भी कश्ती की तरफ नहीं देख रहा हूं क्योंकि अभी मेरा जहाज ही काफी है. खबरें ये भी हैं कि बीते दिन शिवपाल और आजम खान की गोपनीय मीटिंग हुई थी. आजम के सरकारी आवास कल शाम शिवपाल पहुंचे थे, इस दौरान दोनों के बीच चुनाव और विधानसभा सत्र को लेकर चर्चा हुई थी.

कपिल सिब्बल को सपा राज्यसभा भेजेगी तो मुझे ख़ुशी होगी..

आजम खान ने कांग्रेस नेता और सुप्रीम कोर्ट में वकील कपिल सिब्बल के राज्यसभा जाने पर भी बयान दिया. उन्होंने कहा कि देखिए, अगर समाजवादी पार्टी कपिल सिब्बल को राज्य सभा भेजने की बात कर रही है तो ये बहुत अच्छी बात हैं, वे उसके लायक हैं. अगर कपिल सिब्बल राज्यसभा भेजे जाएंगे तो सबसे ज्यादा मुझे ख़ुशी होगी.

 

कुतुबमीनार विवाद: नहीं बदली जा सकती क़ुतुब मीनार की पहचान – कोर्ट में पुरातत्व विभाग ने दाखिल किया जवाब

SHARE

Latest news

Related news