Thursday, December 8, 2022

एमसीडी चुनाव 2022 नतीजे

एमसीडी चुनाव  (250 / 250)  
BJP - 104
CONG - 09
AAP - 134
OTH - 03

लेटेस्ट न्यूज़

Time मैगज़ीन के पर्सन ऑफ द ईयर बने यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की

0
नई दिल्ली : यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की को विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम ने पर्सन ऑफ द ईयर 2022 बनाया है. बता दें, हर साल...

उत्तराखंड : कोर्ट ने Facebook पर लगाया 50 हजार का जुर्माना, जानिए पूरा मामला

0
नैनीताल : बुधवार (7 दिसंबर) को नैनीताल हाईकोर्ट ने फेसबुक पर 50 हजार का जुर्माना लगाया है. ये जुर्माना सही समय पर जवाब दाखिल...

हैदराबाद : देह व्यापर में धकेली जा रही थीं 14 हज़ार लड़कियां, ऐसे पकड़ा...

0
Hyderabad: हैदराबाद की साइबराबाद पुलिस को देह-व्यापर के गोरकधंधे में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. पुलिस ने वेश्यावृत्ति का राजफास करते हुए 17...

हार के बाद भी जीत गए उद्धव! मिली दशहरा रैली की इजाज़त

मुंबई. Uddhav Thackeray Dussehra Rally: महाराष्ट्र में भले ही उद्धव ठाकरे के हाथ से सत्ता चली गई हो, लेकिन मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के खिलाफ उनकी बड़ी जीत हुई है. दरअसल, महाराष्ट्र के शिवाजी पार्क में दशहरा रैली को लेकर उद्धव गुट और शिंदे गुट में थोड़ी खींचतान चल रही थी, दोनों ने ही एक ही दिन एक ही समय पर दशहरा रैली निकालने की इजाज़त मांगी थी, जिसके बाद अब उद्धव ठाकरे गुट को दशहरा रैली की इजाज़त दे दी गई है.

हाईकोर्ट ने ठाकरे गुट को शिवाजी पार्क में 2 अक्टूबर से 6 अक्टूबर के बीच दशहरा रैली करने की इजाज़त दी है. दरअसल, शिवसेना सालों से शिवाजी पार्क में दशहरा रैली करती आई है, लेकिन हाल के दो वर्षों में कोरोना के चलते ये रैली नहीं हो पाई थी. अब स्थिति सुधरने के बाद ठाकरे गुट ने 5 अक्टूबर को दशहरा रैली करने का ऐलान किया था, और इसी दौरान शिंदे गुट भी दशहरा रैली करना चाहता था और इसी को लेकर दोनों के बीच थोड़ी तनातनी चल भी रही थी.

HC पहुँचा था मामला

शिवजी पार्क में रैली को लेकर बीएमसी ने ठाकरे गुट को इजाज़त नहीं दी थी, जिसके बाद ठाकरे गुट बॉम्बे हाई कोर्ट गया, जहाँ फैसला उनके पक्ष में हुआ. और कोर्ट ने उन्हें 2 से 6 अक्टूबर के बीच रैली करने की अनुमति दे दी. अब शिवसेना ने ऐलान कर दिया है कि वो शिवाजी पार्क में 5 अक्टूबर को दशहरा रैली का आयोजन करेगी. इस फैसले को लेकर ठाकरे गुट में खुशी की लहर है और वह इसे शिंदे गुट के खिलाफ अपनी एक बहुत बड़ी जीत बता रहे हैं.

गौरतलब है कुछ दिनों पहले ही उद्धव ठाकरे ने शिवसेना पदाधिकारियों संग बैठक कर दशहरा रैली में लोगों को इकठ्ठा करने के निर्देश दिए थे, इस दौरान उन्होंने कहा था कि हर हाल में दशहरा रैली का आयोजन शिवाजी पार्क में ही किया जाएगा. इसके लिए शिवसेना जोर-शोर से तैयारियों में भी जुट गई थी, इसी संबंध में उन्होंने शिवसेना के बागी विधायकों पर भी निशाना साधा था. ठाकरे ने उन लोगों को महाठग बताया था.

 

विदेश मंत्री जयशंकर को पीएम मोदी ने आधी रात में किया फोन, पूछा- जाग रहे हो? जानिए पूरा किस्सा

अखिलेश यादव ने की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से मुलाकात, आजम खान को लेकर की बातचीत

Latest news