नई दिल्ली. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह बिहार दौरे पर हैं. इस दौरान वे एनडीए के घटक दलों के साथ 2019 के लोकसभा चुनाव पर मंत्रणा करेंगे. बताया जा रहा है कि अमित शाह जेडीयू से सीट शेयरिंग का मामला भी फाइनल कर लेंगे. इस बीच राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटों तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव ने तंज किया है.

अमित शाह का यह बहुत व्यस्त दौरा है. 2019 की चुनावी तैयारी को लेकर अमित शाह नीतीश कुमार के साथ पहले लंच और फिर रात को डिनर करेंगे. जेडीयू खुद को बड़ा भाई बताकर लोकसभा चुनाव में ज्यादा सीटें मांग रही है. बीजेपी ने पिछले महीने सीट बंटवारे पर सहमति को लेकर स्थानीय बीजेपी नेताओं और एनडीए एलायंस की बैठक बुलाई थी. इस बैठक में भी कोई सहमति नहीं बन पाई थी और यह महज डिनर कार्यक्रम बनकर रह गया था. ऐसे में माना जा रहा है कि अमित शाह सीट बंटवारे पर नीतीश कुमार को मनाकर ही लौटेंगे.  

बिहार की कुल 40 लोकसभा सीटों में से बीजेपी के 22 सांसद हैं. वहीं जेडीयू के दो सांसद हैं. विधानसभा सीटें ज्यादा होने के चलते जेडीयू खुद को बड़ा भाई बताकर करीब 20 सीटों की उम्मीद कर रही है. ऐसे में रालोसपा और लोजपा को भी चुनाव लड़ने के लिए सीटें देनी हैं. अगर जेडीयू अपनी जिद पर अड़ी रही तो एनडीए में टिकट बंटवारे पर चुनाव से पहले ही रार होने के आसार हैं. 

वहीं दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार और अमित शाह की काल्पनिक बातचीत शेयर की है. तेजस्वी यादव ने लिखा है…

नीतीश कुमार: लोकसभा में सीटें कम चलेगी लेकिन विधानसभा चुनाव साथ करा मुझे CM घोषित किया जाए।

अमित शाह: अगर ऐसा हुआ तो पाकिस्तान के साथ-साथ तालिबान मे भी पटाखे फूटेंगे

नीतीश कुमार- 2015 मे फूटे थे क्या?

अमित शाह- गिरीराज ने नहीं बताया था क्या? आपके अच्छे संबंध है उनसे?

नीतीश कुमार- ना..नो?

अमित शाह- वैसे, आपने मोदी जी का डिनर क्यों कैन्सल किया था?

गंभीर सन्नाटा….

नीतीश कुमार- देखिए…..यहाँ सुशील मोदी जी है। ये पूरा प्रकरण बतायेंगे। उस वक़्त मेरी स्थिति कितनी मज़बूत थी।

अमित शाह- ये आपके प्रवक्ता है क्या? ये तो आपके आदमी है।

आपको क्या लगता है? किसके चलते हम विधानसभा हारें?

नीतीश कुमार- लालू जी और सुशील जी..

अमित शाह- हम्म…..कितनी सीट पर आपकी दावेदारी है?

नीतीश कुमार- 2009 में आपके साथ थे तब हम 25 पर लड़े थे।

अमित शाह- अब आपके कितने MP है?

नीतीश कुमार- मात्र 2. इसलिए की हम लेफ़्ट के साथ अकेले लड़े थे।

अमित शाह- और हमारे कितने एमपी है?

नीतीश कुमार- 22

अमित शाह- बरोबर…आपसे 11 गुणा ज़्यादा। आप हमारी जगह होते तो क्या करते?

नीतीश कुमार- 2014 वाली परिस्थितियाँ अब नहीं है।

अमित शाह- क्या आपकी वैसी ही है?

छोड़िए सब बात…इसपर आगे विमर्श भूपेन्द्र जी करेंगे।

बैठक में कुछ देर की गंभीर चुप्पी……

चलिए बैठक का विसर्जन किया जाए।

Amit Shah in Bihar LIVE Updates: अमित शाह बोले- बिहार में नीतीश कुमार के साथ जारी रहेगा गठबंधन

अमित शाह का बिहार दौरा: नीतीश के साथ सुबह नाश्ता और रात में डिनर करेंगे बीजेपी अध्यक्ष, पूरे दिन पार्टी की चुनावी मीटिंग

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App